April 16, 2024

उज्जैन । विकासखंड तराना में स्नेह यात्रा के प्रथम दिवस की शुरुआत ग्राम पंचायत कचनारिया से हुई। यहां पर संत  भगवान बापू चारधाम मंदिर उज्जैन, भक्ति प्रेम स्वामी महाराजश्रीपाद प्रेम भक्ति प्रभुश्रीपाद चितहरी कृष्ण प्रभुश्रीपाद श्याम प्रभुश्रीपाद कृष्ण कीर्तन प्रभुश्रीपाद श्रीनिवास आचार्य प्रभुश्रीपाद ओम प्रभु के सान्निध्य में भजन-कीर्तन करते हुए ग्राम भ्रमण किया गया एवं श्री कृष्ण मंदिर में स्नेह सभा का आयोजन किया गया, जिसमें संतों द्वारा प्रत्येक गांव में भगवत गीता का वितरण किया गया एवं जन्माष्टमी पर इस्कॉन मंदिर के लिए आमंत्रण दिया। इसके बाद यात्रा तिलावद ग्राम में पहुंची, जहां सभी ग्रामीणजनों ने पूरे उत्साह-उमंग के साथ यात्रा में सभा कर संतों की वाणी को श्रवण किया। तत्पश्चात खाकरी में यात्रा का भव्य स्वागत किया गया। स्थानीय महिलाओं द्वारा संता को रक्षा सूत्र बांधे गये। यात्रा नयाखेड़ा पहुंची। नयाखेड़ा में भव्य स्वागत के बाद यात्रा ढाबला राजपूत पहुंची, जहां पर हनुमान मंदिर में सभा का आयोजन किया गया। इन ग्रामों से होते हुए यात्रा विश्राम स्थल ग्राम खामली पहुंची। यहां जनसंवाद स्थल पर उपस्थित सैकड़ों ग्रामीणों ने संतों की पुष्पमाला से अगवानी की। संवाद कार्यक्रम में जनअभियान परिषद के जिला समन्वयक  सचिन शिंपी का भी मार्गदर्शन प्राप्त हुआ। संतों ने कहा कि सनातन धर्म अनादिकाल से चला रहा है और इसमें किसी प्रकार का कोई जातिगत भेदभाव शुरू से नहीं रहा है और आगे भी नहीं होना चाहिये। संतों का सानिध्य हमेशा प्रत्येक व्यक्ति का जीवन में होना चाहिए।

शिम्पी ने जन-समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि जातिगत भेदभाव मानव समाज की उन्नति में बाधक है और यह किसी भी व्यक्ति को मान्य नहीं करना चाहिए। मुख्यमंत्री भी प्रदेश में सामाजिक समरसता के साथ सभी का विकास चाहते हैं। यहां सामूहिक भोज एवं विश्राम हुआ। प्रत्येक गांव में ग्रामीण का अपार उत्साह यात्रा एवं संत समाज के प्रति देखने को मिला। मंदिरों में एवं गांव की बस्तियों में संतगणों ने उपस्थित जन-समुदाय को संबोधित करते हुए उनसे आपसी प्रेम-भाव के साथ रहने की अपील की। यात्रा का दौरान जनअभियान परिषद का कोर ग्रुप और मेंटर्स एवं सीएमसीएलडीपी के छात्र-छात्राओं का विशेष सहयोग रहा। यात्रा में गायत्री परिवार, रामकृष्ण मिशन, पतंजलि योग शिक्षक ईश्वर पाटीदार, जनपद पंचायत से श्री किशोर मालवीय सहित सभी पंचायतों के सचिव, पटवारी एवं अन्य प्रशासनिक अधिकारियों का भी पूर्ण सहयोग प्राप्त हुआ। यात्रा के दौरान परिषद के जिला विकासखंड समन्वयक संदीप मालवीय के मार्गदर्शन में पूरी यात्रा निकाली गई।