April 20, 2024

नीमच ।  जिला जेल नीमच में केदीयों को प्राकृतिक गोबर से राखी निर्माण का प्रशिक्षण दिया गया। गोपाल गुरू कमल गौशाला जिला जेल नीमच में उपलब्ध गोबर के अभिनव प्रयोग के रूप में भीमराज शर्मा गौकृति जयपुर के मार्गदर्शन व सहायता से पुरूष एवं महिला बंदियों ने गोमय कागज से बनी राखी व गोबर से मूर्तिया बनाने का प्रशिक्षण प्राप्त किया तथा कई उत्पाद बनाये। गौकृति के द्वारा पेंटेट तकनीक द्वारा गोमय मिश्रित पुन: चक्रित हस्तनिर्मित कागज से राखियॉं निर्मित की। गोबर से कागज बनाकर इस कागज से शर्मा ने कई प्रकार के उत्पाद बनाने की योजना जिला जेल नीमच के समक्ष रखी है जिससे बंदियों के स्वावलम्बन की दिशा में प्रगति होगी। इस अभिनव प्रयोग से महिला बंदिनियाँ तथा पुरुष बंदियों को आर्थिक स्वतंत्रता मिलेगी बंदी सुधार की इस पहल में जिला जेल नीमच के अधीक्षक प्रभात कुमार, उप अधीक्षक व्हाय के माझी व सहायक अधीक्षक डॉ. अंशुल गर्ग द्वारा सहयोग किया जा रहा है। भीमराज शर्मा गौकृति जयपुर व जेल प्रशासन के इस संयुक्त प्रयास से महिला बंदिनियों एवं पुरूष बंदियों के जीवन में स्थाई सकारात्मक बदलाव होगें। यह एक अभिनव प्रयोग किया गया है।