April 24, 2024

 योगेंद्र जोशी. इंदौर।

वैसे तो राऊ को छोड़कर इंदौर की सभी विधानसभा सीटों पर भाजपा की रायशुमारी चल रही है। राऊ में भाजपा अपनी पहली प्रत्याशियों की सूची में मधु वर्मा को टिकट दे चुकी है। दूसरे राज्यों से आए विधायक यहां पर भाजपा कार्यकर्ताओं तथा आमजन का मन टटोल रहे हैं। उन्हें यह रिपोर्ट देना है कि किस सीट पर कौन वर्तमान विधायक या दावेदार संभावित प्रत्याशी हो सकता है और वह जीत दर्ज करवा सकता है। इंदौर के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 5 को लेकर एक अलग ही हलचल है। राजनीतिक सूत्रों का मानना है कि भाजपा में इंदौर विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 5 से अचानक एक नया नाम सामने आ सकता है। समझा जाता है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में बड़ा दायित्व निभा रहे एक पदाधिकारी को संघ के दायित्व से मुक्त करके भाजपा की सेवा में भेजा जा सकता है, और उन्हें क्षेत्र क्रमांक 5 से टिकट देकर चुनाव लड़वाया जा सकता है। फिलहाल, भले ही यह समाचार प्राथमिक तौर पर हो, लेकिन यहां से एकदम नए चेहरे को उतारना आश्चर्यजनक भी नहीं लगता। गौरतलब है कि इस सीट से वर्तमान में महेंद्र हार्डिया विधायक हैं। उन्हें लोग प्यार से बाबा कह कर बुलाते हैं। बाबा पूर्व मंत्री भी हैं। पिछले कुछ माह से बाबा के खिलाफ उनके अपने ही क्षेत्र में बगावत के स्वर सुनाई पड़ रहे हैं। क्षेत्र के ही भाजपाइयों ने एक गुप्त मीटिंग कर बाबा के खिलाफ अंदरूनी मोर्चा भी खोल दिया है। इस तरह की चर्चा मीडिया में भी जमकर आ चुकी है, हालांकि इसके बाद बाबा सक्रिय हुए और डैमेज कंट्रोल के लिए उन्होंने अपने क्षेत्र के लोगों के साथ समस्याओं को लेकर नगर निगम आयुक्त से मुलाकात भी की। उनकी यह सक्रियता टिकट देने वाले भाजपा आलाकमान को कितना प्रभावित कर पाएगी, यह तो वक्त ही बताएगा। हालांकि विधानसभा क्षेत्र क्रमांक पांच से भाजपा के ही कई और दावेदार भी हैं, लेकिन भाजपा का सिस्टम एक अलग ढंग से काम करता है। अचानक कोई नया नाम सामने आ जाए तो आश्चर्य नहीं।