April 20, 2024

चौराहों पर खड़ी रह गई पुलिस, एक सप्ताह में पिस्टल की नोंक पर लूट की दूसरी घटना
नगर प्रतिनिधि  इंदौर
शहर में बढ़ते अपराध रोकने में पुलिस नाकामयाब साबित हो रही है। शहर में पुलिस का खौफ नजर नहीं आ रहा है। अपराधी खुलेआम लूटपाट मचा रहे हैं। सोमवार को एक दुकानदार के साथ लूट की वारदात हो गई। वारदात उस वक्त हुई जब पुलिस गुंडे-बदमाशों की धरपकड़ का ढिंढौरा पीट रही थी।
बदमाश पिस्टल के नोंक पर रुपये छीनकर फरार हो गए। इलाके में लूट की दूसरी घटना है। इसके पहले भी एक दुकानकार को इसी तरह से लूटा गया है। उस घटना के अपराधी अभी तक फरार है। शहर में सोमवार को ही शहर में बढ़ते अपराधों पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सहित अन्य ने चिंता जताई थी।
वाकया जूनी इंदौर थाना क्षेत्र का है। पुलिस ने फरियादी संजय पुत्र अशोक केलवानी निवासी विनय नगर केशरबाग रोड़ की शिकायत पर लूट की अपराध पंजीबद्ध किया है। संजय ने पुलिस को बताया कि उसकी नेहा अपार्टमेंट (कलेक्टर कार्यालय के सामने) दुकान है। सोमवार को तीन बदमाश दुकान पर आए और संजय को पिस्टल अड़ा दी। बदमाशों ने गोली मारने की धमकी दी और संजय से 8 हजार रुपये लूट लिए। सोमवार रात पुलिस ने तीन बदमाशों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। आरोपितों की पहचान नहीं हुई है।
जूनी इंदौर थाना क्षेत्र में एक सप्ताह में दूसरी लूट है। इसके पहले साधु वासवानी नगर में भी घटना हो चुकी है। दुकानदार अजय से तीन बदमाश पिस्टल अड़ाकर 17 हजार रुपये छीन कर फरार हो गए। इस घटना में पुलिस को सीसीटीवी फुटेज मिले लेकिन आरोपितों का अभी तक सुराग नहीं लगा।
चौराहों पर खड़ी थी पुलिस : दोनों घटनाएं उस वक्त हुई जब पुलिसवाले चौराहों पर चैकिंग कर रहे थे। शहर में करीब दो हजार अपराधियों पर पुलिस ने कार्रवाई की लेकिन लूट और चोरी के आरोपित अभी तक नहीं मिले। एडीसीपी अभिनय विश्वकर्मा के मुताबिक, फुटेज के आधार पर आरोपितों को ढूंढ रहे हैं।