April 15, 2024

मुंबई। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को कहा कि वो वीआईपी की गाड़ियों पर लगे सायरन को हटाना चाहते हैं। इसके लिए योजना बना रहे हैं। ध्वनि प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए यह एक जरूरी कदम है। सायरन की जगह इंडियन म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट की आवाज लगाई जा सकती है। गडकरी ने यह बातें पुणे के चांदनी चौक फ्लाई ओवर के इनॉगरेशन के दौरान जनता को संबोधित करते हुए कहीं। गडकरी ने कहा- मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे वीआईपी की गाड़ियों से लाल बत्ती खत्म करने का मौका मिला। अब, मैं सायरन और हॉर्न की आवाज को बदलने की योजना बना रहा हूं।
इन्हें बांसुरी, तबला और शंख की आवाज से बदला जाएगा, जिससे लोगों को ध्वनि प्रदूषण से राहत मिले।

1 मई 2017 से श्कढ की गाड़ियों से लाल बत्ती हटी थी
देशभर में 1 मई 2017 से पीएम समेत मंत्रियों और अफसरों की गाड़ियों पर बत्ती लगाना बैन कर दिया गया था। मोदी कैबिनेट ने यह फैसला किया था। उस वक्त केंद्रीय मंत्री रहे अरुण जेटली ने कहा था कि अब सिर्फ एम्बुलेंस और फायर ब्रिगेड जैसी इमरजेंसी सर्विसेज के व्हीकल पर ही नीली बत्ती लगाई जा सकेगी।