April 20, 2024

खाचरौद ।  नागरिक अधिकार मंच के तत्वावधान में सम्पूर्ण नगर बंद के आव्हान पर जनता ने स्वैच्छा से अपनी-अपनी दुकानें प्रात: से ही बंद कर आंदोलन में सहयोग किया। नागरिक अधिकार मंच के सभी कार्यकर्ताओं ने प्रात: से ही हाथ जोड़कर खाचरौद के हित में नगर बंद कर जन आंदोलन में सहयोग देने की अपील को स्वीकार कर समर्थन देने का आह्वान किया।
दोपहर 2 बजे गणेश देवली से सैकड़ों नगरवासियों के साथ एक जुलूस नगर के हित के लिये निकला जिसमें युवा वर्ग भी अधिक संख्या में उपस्थित रहा। जुलूस नगर के विभिन्न चौराहों से होता हुआ पुराना पुलिस थाना स्थान पर जनसैलाब को लेकर जनसभा में परिवर्तित हुआ। जनसभा को संबोधित करते हुए अधिकार नागरिक मंच में अनिल छाजेड़ ने कहा कि आखिर कब तक खाचरौद के साथ अनदेखी की जायेगी। नगर के विकास के लिए कोई योजना नहीं है। क्षेत्र के साथ अन्याय के खिलाफ लामबंद होना हमारी मजबूरी है। खाचरौद क्यों नहीं जिला बन सकता है। पर्याप्त प्रदूषण रहित भूमि, बड़ी तहसील होने का दर्जा, बड़ा विकासखण्ड और कार्यालय ग्वालियर स्टेट के जमाने से संचालित होते चले आ रहे हैं। अभी गत दिवस ही क्षेत्रीय विधायक गुर्जर ने प्रेस वार्ता में बताया कि 50 प्रतिशत जिला कार्यालय खाचरौद तहसील में खोले जायेंगे। विधायक गुर्जर खाचरौद की जनता को मूर्ख बनाना बंद करे। ऐसा कौन सा प्रावधान व संविधान है जिसके तहत यह होगा। विधायक प्रलोभन देकर जनता के इस जन आंदोलन को रोकना चाहते हैं, खाचरौद अब जाग गया है यह अपने हित की लड़ाई के लिए खड़ा होगा। नागरिक अधिकार मंच द्वारा एक ही लक्ष्य है खाचरौद को जिला बनाओ नहीं तो हमें प्रस्तावित जिला नागदा से स्वतंत्र रखकर उज्जैन जिले में ही रहने दें। प्रवीण नायक ने कहा कि नागदा व खाचरौद दोनों भाई हैं हम नागदा को जिला बनाने का विरोध नहीं कर रहे हंै हम अपने अधिकार की बात कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने नागदा आगमन पर घोषणा की थी कि जो तहसील प्रस्तावित जिला नागदा में शामिल नहीं होना चाहती वह स्वतंत्र है। नगरवासियों की आपत्ति को स्वीकार कर प्रस्तावित नागदा जिले से मुक्त रखें।
आपत्ति को इस ज्ञापन के माध्यम से मुख्य सचिव म.प्र. सरकार के नाम राजस्व कार्यालय के प्रतिनिधि तहसीलदार रमेशसिंह सिसौदिया को सौंपकर खाचरौद को प्रस्तावित जिले से मुक्त रखने का आपत्ति आवेदन दिया। ज्ञापन को ग्रहण कर तहसीलदार रमेशसिंह सिसौदिया ने कहा कि आज ही मुख्य सचिव म.प्र. सरकार को ज्ञापन भेज दिया जायेगा।
जनसभा को ल़क्ष्मीनारायण संगीतला, अनिल शर्मा, मनीष शर्मा, अखिलेश शर्मा, ऋतुराज बुड़ावनवाला आदि ने संबोधित किया। ज्ञापन का वाचन अखिलेश राठौर ने किया व आभार निशीत सिसौदिया ने माना।