April 15, 2024

 ट्रैक्टर की अनिवार्यता के कारण योजना से वंचित

सारंगपुर । विकासखंड सारंगपुर में लाड़ली बहना योजना के दूसरे चरण के फार्म भरे जा रहे हैं। 8 दिन में विकासखंड में 1673 महिलाओं के फार्म जमा किए हैं। लेकिन इसमें सिर्फ उन महिलाओं के आवेदन लिए जा रहे हैं जिनके यहां ट्रैक्टर है या फिर उनकी उम्र 21 से 23 साल के बीच है। सबसे बडी परेशानी उन महिलाओं को आ रही है जो पहले चरण में आवेदन करने से वंचित रह गई। अधिकारी उनके आवेदन नहीं ले रहे हैं। योजना के पहले चरण में शासन ने महिलाओं की उम्र 23 साल से 60 साल रखी थी। इसमें विकासखंड की कई महिलाएं दस्तावेजों में करेक्शन व अन्य कारणों से वंचित रह गई थी। कई महिलाओं को दूसरे चरण में योजना से वंचित किया जा रहा है। इसे लेकर महिलाओं को शिकायत है। जनपद सदस्य घनश्याम मालवीय ने कहा उनके वार्ड की कई महिलाओं को ट्रैक्टर न होने के कारण योजना का लाभ नहीं मिल रहा है।
पड़ाना की फातमा बी ने बताया कि पहले उनका आधार अपडेट नहीं था इसलिए प्रथम चरण में लाड़ली बहना योजना में पंजीयन नहीं हो सका। अब दूसरे चरण में वह पंजीयन कराने गई थी, लेकिन उनका फार्म भरने से मना कर दिया। क्योंकि ट्रैक्टर उनके पास नहीं है। ट्रैक्टर होता तो एक हजार की जरुरत नहीं रहती।
पाडल्यामाता की शांति बाई ने बताया कि हमारे घर में एक ट्रैक्टर है। जिससे परिवार की एक महिला का पंजीयन हो गया लेकिन मेरा रह गया। पूछने पर बताया कि एक ट्रैक्टर के रजिस्ट्रेशन पर एक महिला का फॉर्म ही भरा हो पाएगा।
लाभ से वंचित रहने वाली महिलाओं में नाराजगी
द्वितीय चरण से बाहर किए जाने वाली महिलाएं अपात्र होने के डर से सीएम हेल्पलाइन पर लगातार शिकायतें कर रही हैं। नगरपालिका क्षेत्र हो या जनपद क्षेत्र सभी जगह शिकायतें पहुंच रही हैं। जिसके पीछे महिलाओं का तर्क है कि ट्रैक्टर नहीं है तो फॉर्म क्यों नहीं भरा जा रहा है। ऐसे में सेंटरों पर महिलाओं को आदेश में संशोधन होने का हवाला देकर लौटाया जा रहा है।