April 18, 2024

 

उज्जैन। टाटा कंपनी द्वारा नानाखेड़ा स्टेडियम के पास सर्विस रोड को खोदकर यहां सीवरेज लाइन बिछाकर चेंबर बनाया गया था। चेंबर का निर्माण कार्य पूरा होने के बाद सर्विस रोड पर वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई। लेकिन कुछ दिनों पहले चेंबर से जब एक कार गुजरी तो चेंबर ढाई से 3 फीट नीचे धंस गया और इस हादसे में कार क्षतिग्रस्त हो गई। गनीमत यह रही कि कोई भी चेंबर में नहीं गिरा नहीं तो बड़ा हादसा भी हो सकता था। बताया जाता है कि इसके अलावा दो तीन बाइक सवार भी क्षतिग्रस्त चेंबर में फस गए थे। जिन्हें बड़ी मुश्किल से लोगों ने निकाला।बाद में पता चलने पर टाटा कंपनी के लोग पहुंचे और उन्होंने बैरिकेट्स लगाकर सर्विस रोड से निकलने वाले वाहनों की आवाजाही बंद की। नानाखेड़ा स्टेडियम के समीप सर्विस रोड को खोदकर टाटा कंपनी ने सीवरेज लाइन बिछाने का कार्य शुरू किया था।

इस सर्विस रोड पर तीन चेंबर भी बनाए हैं चेंबर बनाने के लिए सर्विस रोड को खोदकर 15 फीट नीचे गड्ढा किया गया था तथा उसमें चेंबर बनाया गया। 4 महीने चला यह कार्य कुछ समय पहले ही पूरा हुआ था। चेंबर को ढककर मलबा डालकर इस सर्विस रोड पर वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई थी। लेकिन जब इस सर्विस रोड से जहां चेंबर बना था वहां से कार गुजरी तो कार नीचे धंस गई ।बताया जाता है कि कार ढाई से 3 फीट नीचे धंस गई थी और घटना में कार का पिछला हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया। बड़ी मुश्किल से लोगों ने कार को बाहर निकाला उसी दौरान कुछ बाइक सवार भी इस धंसे हुए चेंबर में जाकर फस गए। जिन्हें लोगों ने निकाला। इस घटना का पता चला तो टाटा कंपनी के कर्मचारियों ने पहुंचकर बैरिकेट्स लगाकर रास्ता बंद किया। क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि घटिया निर्माण की वजह से यह चेंबर जरा से वजन में धंस गया जिसे लेकर लोग कंपनी के खिलाफ विरोध प्रकट कर रहे थे इस सर्विस रोड से नानाखेड़ा क्षेत्र के अर्पिता कॉलोनी, अभिषेक नगर सहित कई कॉलोनियों के लोग इस सर्विस रोड का उपयोग करते हैं।