नेपा लिमिटेड में सिक्योरिटी गार्ड की भर्ती में ठेकेदार द्वारा युवाओं से 12 हजार रुपए की मांग

नेपानगर । नेपा लिमिटेड द्वारा कंपनी में सुरक्षा गार्ड लगाने के लिए निजी कंपनी फर्स्ट मैन संचालक विद्यासागर चेन्नई को ठेका दिया गया है। इस कंपनी द्वारा नेपा लिमिटेड में सिक्योरिटी गार्ड की भर्ती की जा रही है । जिसमें भोले भाले नगर के बेरोजगार युवाओं ने आश लगा रखी हैं मिली जानकारी के अनुसार नेपा लिमिटेड में 50 सिक्योरिटी गार्ड और 20 एक्स सर्विसमैन की ठेका कंपनी द्वारा भर्ती की जाएगी। नगर के बेरोजगार युवा ने आरोप लगाया है। कि सिक्योरिटी गार्ड की भर्ती के नाम पर 12 हजार रूपए की मांग की जा रही है जिसमें 10 से 12 युवाओं से 4 – 4 हजार रुपए ले लिए गए। और बताया जा रहा है कि कई युवा आसपास के गांव के हैं जो रुपए लाने गए हुए थे लेकिन जैसे ही खबर लगी वे इस अवैध वसूली के चंगुल से बच गए।

शुरूआत में ही ठेकेदार का यह हाल- क्या नेपा लिमिटेड लेगी कोई एक्शन?

मिली जानकारी के अनुसार वार्ड नंबर 21 के निवासी सतीश सपकाले के घर पर अनुराग परते पुष्पेंद्र पांडे और प्रकाश खेरनार यह तीनों लोग 3 दिन से रुके हुए थे और वही से युवकों को सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी देने का झांसा देकर फार्म भरने और पैसों की मांग कर रहे थे। नेपानगर के युवाओं ने इन तीनों को मनोज टॉकीज क्षेत्र में यह जिस मकान पर रुके थे वहां दबोच लिया और थाने लेकर पहुंचे। यह भी बताया जा रहा है कि यह तीनों युवाओं से फोनपे और गूगल पे के माध्यम से भी अपने खाते में पैसों का लेनदेन कर रहे थे। जैसे यह खबर नगर में फैली नेपानगर थाने पर युवाओं की भीड़ लगना शुरू हो गई। थाने पर जनप्रतिनिधियों का जमावड़ा शुरू हो गया। गजेंद्र पाटील भी सांसद प्रतिनिधि विजयवर्गीय के साथ नेपानगर थाने पहुंचे और आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई करने और नेपानगर के बेरोजगार युवाओं से ली गई रकम को वापस करने की बात कही। अब नगर में यह चर्चा का विषय बना हुआ है कि जिस ठेकेदार द्वारा शुरुआती दौर में ही नगर के बेरोजगार भोले भाले युवाओं से पैसों का लेनदेन करके सिक्योरिटी गार्ड की भर्ती की जा रही है क्या अब नेपा लिमिटेड द्वारा ठेकेदार पर कोई एक्शन लिया जाएगा? या ठेका निरस्त किया जाएगा?

रिपोर्ट धनराज पाटील 

You may have missed