इंजीनियर के बेटे का अपहरण कर 1.5 करोड़ रूपये की मांगी फिरौती, पुलिस ने आरोपियो के चंगुल से को कराया मुक्त

राजगढ़। भोपाल विकास प्राधिकरण के इंजीनियर नरसिंहगढ निवासी शकील अहमद खान के पुत्र सैय्यद अदनान का ग्राम बडोदिया तालाब के अंतर्गत पोल्ट्री फार्म के पास से कार एमपी 04 सीएक्स 4942 सहित कुछ आरोपी अपहरण कर ले गए। नरसिंहगढ थाने में प्रकरण कायम कर जांच में लिया, पिता शकील अहमद के मोबाईल पर आरोपियो द्वारा फोन किया तथा अपहृत सैय्यद अदनान को रिहा करने हेतु 1.5 करोड़ रूपये की फिरौती मांगी। नरसिंहगढ़ पुलिस ने जिले में नाकाबंदी की गई, अपहृत सैय्यद अदनान के फोटोग्राफ को जोन भोपाल, जिलों के विभिन्न पुलिस ग्रुप्स में भेजा गया तथा सूचना संकलन हेतु व्यक्तियों को सक्रिय किया। आरोपियो की गिरफ्तारी हेतु 10,000/- रूपये की घोषणा की।

 पत्नी इरम बनी अपहरण की श्रवण साक्षी..

पुलिस को मिली सूचनाओं के आधार पर ग्राम उकावत थाना मधूसूदनगढ जिला गुना क्षेत्र में घेराबंदी कर अपहृत सैय्यद अदनान को आरोपियो के चंगुल से आजाद कराया। आरोपी संतोष पिता प्रभूलाल मीणा 38, पवन पिता ज्ञानसिंह मीणा 35, सुनील पिता प्रेमनारायण मीणा 22 तीनो निवासी ग्राम जामौन्या गणेश थाना कुरावर एंव रामभरोस पिता कंवरलाल धाकड नागर 28 निवासी जामौन्या जौहार थाना कुरावर को जंगलो में भागते हुए घेराबंदी कर गिरफ्तार किया। आरोपियो के पास से एक क्रेटा कार, एक मोटरसाईकल और अपहृत की बलेनो कार जप्त की। मुख्य आरोपी इमरान पिता रफी अहमद है जो अपहृत अदनान का चचेरा भाई है वह अदनान की प्रगति से जलता था आर्थिक रूप से कमजोर एवं स्वयं के शौक पूरे करने के लिए पैसों की जरूरत थी। अपहृत अदनान निकट भविष्य में 5 करोड़ रूपये से कोल्ड स्टोरेज बनाने वाला था, जिससे इमरान को यह अनुमान लग गया था कि वह आर्थिक रूप से सक्षम है एवं फिरौती के माध्यम से बड़ी राशि प्राप्त की जा सकती है। आरोपियों के साथ मिलकर अपहरण की साजिश रची थी।

रिपोर्ट – मुकेश सक्सेना

You may have missed