April 16, 2024

 15 करोड़ से अधिक की संपत्ति मिलने का अनुमान, वर्तमान में देवास में पदस्थ है।

 

उज्जैन में खनिज अधिकारी के रूप में पदस्थ रहे और वर्तमान में देवास खनिज अधिकारी के पद पर पदस्थ मोहनसिंह खतेड़िया के इंदौर स्थित निवास पर मंगलवार तड़के  लोकायुक्त ने बड़ी कार्रवाई की है। देवास में पदस्थ इस अधिकारी के इंदौर में तुलसी नगर स्थित घर सहित करीब 4 जगहों पर छापेमारी की गई है। खनिज अधिकारी मोहन सिंह खतेड़िया के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने की शिकायत पर छापेमारी कार्रवाई की गई है।
इंदौर लोकायुक्त द्वारा तुलसी नगर इलाके के सी सेक्टर मकान नंबर 124 में सुबह 5 बजे कार्रवाई शुरू की गई। मोहन सिंह खतेड़ीया अभी देवास में पदस्थ है। इससे पहले वह जिला धार के तत्कालीन खनिज अधिकारी थे। खनिज विभाग में रहते हुए मोहन सिंह खतेड़िया कई जगह अपनी खदान और प्लांट बनाकर नौकरी के साथ-साथ बड़ा व्यवसाय भी कर रहे थे। जिसकी शिकायत मिलने के बाद लोकायुक्त ने मंगलवार सुबह कार्रवाई की।
खनिज अधिकारी मोहन सिंह वर्तमान में देवास में पदस्थ है, इंदौर लोकायुक्त द्वारा एक साथ चार स्थानों पर अलग-अलग कार्रवाई की जा रही है। जिसमें देवास, पीथमपुर, उज्जैन और इंदौर में एक साथ कार्रवाई की गई। जिस गिट्टी खदान की बात की जा रही थी उसकी कीमत 10 करोड़ के लगभग बताई जा रही है। एक रेत की खदान भी मोहन सिंह द्वारा संचालित की जा रही थी। घर में सोने-चांदी के जेवर भी मिले हैं, जिनकी कीमत आंकी जा रही है। छापेमारी में करीब 3 लाख से ज्यादा का कैश भी बरामद हुआ है।