April 19, 2024

उज्जैन। प्रतिबंध के बाद भी चाइना डोर से पतंगबाजी की जा रही है। शुक्रवार दोपहर भाजपा दीनदयाल मंडल के कार्यालय मंत्री की नाक और होंठ कट गया। जिन्हें निजी अस्पताल में भर्ती किया गया है।
ऋषिनगर में रहने वाले विष्णु पिता रामचंद्र पोरवाल 40 वर्ष भाजपा दीनदयाल मंडल के कार्यालय मंत्री है। दोपहर 1 बजे के लगभग बड़ोद से आए चचेरे भाई दिनेश के साथ बाइक पर सवार होकर जयसिंहपुरा स्थित पोरवाल धर्मशाला मौसर के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए जा रहे थे। घर से कुछ ही दूरी पर अचानक उनके चेहरे पर प्रतिबंधित चाइना डोर आकर गिरी। वह कुछ समझते और बच पाते उससे पहले डोर ने उनकी नाक और होंठ को लहूलुहान कर दिया। चचेरे भाई ने डोर को हटाया और परिजनों को जानकारी देकर निजी अस्पताल पहुंचे। नाक पर गहरा घाव हुआ है डोर का असर नाजुक हड्डी पर होना बताया गया है। होंठ पर भी गहरा जख्म होना बताया सामने आया है। बताया जा रहा है कि नाक की शनिवार को डॉक्टर द्वारा सर्जरी की जाएगी। गौरतलब है कि 1 दिसंबर को कलेक्टर आशीष सिंह ने चाइना डोर के उपयोग, क्रय-विक्रय और भंडारण पर पूर्ण प्रतिबंध लगाते हुए धारा 144 लागू की थी, बावजूद इसके अब भी प्रतिबंधित डोर का उपयोग पतंगबाज कर रहे हैं। 4 जनवरी को 6 वर्षीय बालिका का गला कटा था। दूसरे दिन स्क्रेप व्यवसाई का गला कटने का मामला सामने आया था। 8 जनवरी को इंदौर में प्रवासी भारतीय सम्मेलन में शामिल वीआईपी बाबा महाकाल के दर्शन करने और श्री महाकाल महालोक देखने आ रहे थे। ड्यूटी में तैनात होमगार्ड सैनिक का गला चाइना डोर से कट गया था। डॉक्टरों ने 10 टांके लगाकर सैनिक की जान बचाई थी। पिछले वर्ष चाइना डोर से स्कूटी सवार छात्रा का गला कटने से मौत हो चुकी है।