April 19, 2024

उज्जैन। प्रवासी भारतीय सम्मेलन में इंदौर आए वीआईपी रविवार सुबह से ही महाकाल दर्शन के लिए उज्जैन आ रहे थे। दोपहर में वीआईपी ड्यूटी पर जा रहे होमगार्ड सैनिक के गले में प्रतिबंधित चाइना डोर आकर उलझ गई। वह संभल पाता डोर ने गला काट दिया था।
बागपुरा में रहने वाला सुजीत सिंह ठाकुर होमगार्ड सैनिक है और वर्तमान में महिला थाने पर पदस्थ है। वीआईपी आगमन के चलते उसकी ड्यूटी इंदौर रोड फोरलेन पर लगाई गई थी। दोपहर में बाइक पर सवार होकर साथी सैनिक भगवानदास पंथी के साथ शांति पैलेस से लाल गेट की ओर जा रहा था। वसंत विहार के समीप अचानक चाइना डोर गले में आकर उलझ गई वह बाइक रोकता और संभलता उससे पहले गला कट चुका था। पीछे बैठे साथी में तत्काल डोर को गले से हटाया और सुजीत सुजीत को उपचार के लिए निजी अस्पताल लेकर पहुंचा। डॉक्टरों ने उपचार शुरू करते हुए गले में 10 टांके लगाए हैं। हालत खतरे से बाहर बताई गई है लेकिन गला बुरी तरह से जख्मी हो चुका था। गौरतलब हो कि पतंग बाज अब भी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं और सख्ती के बाद भी चाइना डोर का उपयोग पतंगबाजी में किया जा रहा है।