मध्यप्रदेश के बिजली कर्मचारी 15 दिसंबर के बाद करेंगे अनिश्चितकालीन हड़ताल

ब्रह्मास्त्र भोपाल

मध्य प्रदेश के हजारों बिजली कर्मचारियों अधिकारियों ने आज भोपाल में प्रदर्शन किया। अब ये बड़े पैमाने पर हल्ला बोलने की तैयारी में हैं। इन लोगों ने 15 दिसंबर के बाद अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का ऐलान किया है। ये बिजली कर्मचारी लंबे समय से संविदा कर्मचारियों को नियमित करने और आउटसोर्स कर्मचारियों के संविलियन की मांग कर रहे हैं। इन दो मांगों के साथ ही बिजली विभाग के कर्मचारियों ने 10 सूत्रीय मांगों को लेकर सांकेतिक रूप से प्रदर्शन भी किया। ऊर्जा मंत्री के आश्वासन के बाद भी अब तक मांगों पर लिखित में कोई प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है। इसी के चलते अब चुनावों से पहले बिजली कर्मचारियों ने हल्ला बोला है।

भोपाल में सांकेतिक प्रदर्शन के दौरान बिजली कर्मचारियों ने कहा प्रदेश में 50,000 से ज्यादा बिजली कर्मचारियों की कमी है। कमी के बावजूद कर्मचारी लगातार काम कर रहे हैं। इसके बाद भी उनकी मांगें पूरी नहीं की जा रहीं। अगर अब भी मांगें पूरा करने की प्रक्रिया शुरू नहीं हुई तो प्रदेश भर काम बंद हड़ताल की जाएगी।

10 सूत्रीय मांगों को लेकर बिजली कर्मचारियों ने हल्ला बोला है। इन मांगों में विद्युत संविदा नियमितीकरण, गुजरात प्लान लागू करने की मांग, पावर सेक्टर में निजीकरण प्रक्रिया को रद्द करने की मांग। पुरानी पेंशन बहाली और बिजली आउट सोर्स कर्मचारियों का संविलियन किया जाए। वेतन वृद्धि, मेडिकल क्लेम पाल्सी लागू की जाए। अनुकंपा नियुक्तियों के प्रकरणों का निराकरण करते हुए नियुक्तियां की जाएं। सभी वर्गों का प्रमोशन, बिजली पेंशनरों आश्रित को महंगाई भत्ता 38% दिया जाए। इन सभी मांगों को लेकर प्रदेश भर से जुटे बिजली कर्मचारी रैली लेकर वल्लभ भवन तक पहुंचे और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *