April 15, 2024

– दुष्कर्म की आशंका, शरीर पर मिले चोट के निशान

उज्जैन। लापता बालिका की बीती रात घर में ही छुपा कर रखी लाश बरामद हुई है। बालिका के शरीर पर चोट के निशान थे और गला दबाया गया था। घटनास्थल पर प्रतीत हो रहा था कि उसके साथ गलत काम हुआ है। आज सुबह एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ल घटनास्थल पहुंचे थे।

भाटपचलाना थाना क्षेत्र के ग्राम खेड़ावदा में रहने वाली 13 वर्षीय बालिका शनिवार सुबह 9 बजे लापता हो गई थी। बालिका नाना-नानी के साथ रहती थी। सुबह नानी मंदिर चली गई थी और नाना घर के सामने बनी चाय की दुकान पर बैठे थे। बालिका घर पर अकेली थी, कुछ देर बाद नानी लौटकर आई तो बालिका घर में दिखाई नहीं दी। बालिका को स्कूल लेकर जाना था जिसके चलते उसकी तलाश शुरु की गई। शाम तक पता नहीं चलने पर नाना-नानी ने थाने पहुंचकर गुमशुदगी दर्ज कराई। पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर जांच शुरु की।

गांव में कहीं कैमरे नहीं लगे थे, जिसके चलते बालिका का कुछ पता नहीं चल पा रहा था। इस बीच देर रात-नानी को घर के एक कमरे में बालिका का शव पड़ा मिला जिसके शरीर पर चोट के निशान थे और शव को बोरे से छुपा कर रखा गया था। उसके आगे कपड़े नहीं थे जिसके चलते दुष्कर्म की आशंका जताई गई। रात 1 बजे एफएसएल अधिकारी जांच के लिए मौके पर पहुंची। घटनाक्रम सामने आने के बाद टीआई संजय वर्मा अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंच गए थे। घटनाक्रम से प्रतीत हो रहा था कि बालिका की हत्या में किसी परिचित का हाथ हो सकता है। आज सुबह एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आकाश भूरिया घटनास्थल का जायजा लेने के लिए पहुंचे थे। थाना प्रभारी को मामले में जल्द से जल्द सुराग तलाशने के निर्देश दिए गए। बालिका का शव मिलने के बाद सामने आ रहा था कि उसकी गला काट कर हत्या की गई है लेकिन ऐसे चल जांच के बाद गला काटने की पुष्टि नहीं हुई शरीर पर चोट के निशान जरूर मिले हैं। आज सुबह बालिका का पोस्टमार्टम कराया गया है।