April 15, 2024

उज्जैन। क्राइम ब्रांच की टीम ने अब तक की सबसे बड़ी दबिश देर रात गीता कालोनी में मारी। टीम को 14 लाख से अधिक का केश और सटोरिये के घर से तिजोरी में रखे सोने-चांदी और डायमंड के करोड़ों कीमत के आभूषण मिले है। देर रात तक पुलिस कार्रवाई में लगी हुई थी। बड़े पैमाने पर चल रहे सट्टाघर का खुलासा होने के बाद थाना प्रभारी पर गाज गिरी है।
आईपीएस विनोद कुमार मीणा की क्राइम टीम को देर रात गीता कालोनी में रवि सिंधी द्वारा बड़े पैमाने पर सट्टा खाईवाली करने की जानकारी मिली थी। रात 11 बजे के लगभग टीम दबिश के लिये पहुंची। हाईटेक तरीके से खाईवाली करने वाला रवि सिंधी मौके से भाग निकला। टीम ने उसके मकान से सट्टा पर्ची लिख रहे इंदर पमनानी गीता कालोनी, यश पमनानी यश लखवानी, प्रकाश श्रीवास्त निवासी काजीपुरा के साथ कैलाश को हिरासत में लिया। टीम ने 14 लाख से अधिक का केस बरामद किया और लाखों के हिसाब की पर्ची मिली। टीम को रवि सिंधी का नानाखेड़ा में आफिस होने की जानकारी सामने आई, जहां टीम ने दबिश दी तो 4 लाख का केस बरामद हो गया। आईपीएस मीणा ने बड़े पैमाने पर चल रहे सट्टाघर की तलाशी शुरु की तो मकान में जमीन के अंदर तिजोरी होने की जानकारी मिली। टीम ने खुदाई कर टाइल्स हटाई और तिजोरी खोली। जिसमें सोने-चंादी के आभूषणों के साथ डायमंड के आभूषण और बिस्किट बरामद हो गये। देर रात तक क्राइम टीम आभूषणों का आंकलन करती रही। इस दौरान सामने आया कि 10 सोने के बिस्किट 100 ग्राम, एक बिस्किट 1 किलो और एक टूटा बिस्किट 800 ग्राम का है। वहीं सोने के 22 कंगन, 5 कड़े, 12 चेन, 9 ब्रेसलेट, 28 अंगूठियां, 21 ग्राम सोने से जड़ी रुद्राश माला और 170 ग्राम के अन्य आभूषण है। चांदी का एक नोट, 35 सिक्के वजन 492 ग्राम से अधिक है। टीम को एक डायमंड का हार और 4 ईयर रिंग और 30 मोबाइल मिले हैं। बताया जा रहा है सोना करोड़ों का है। मौके से मिले आभूषण और नकदी का आंकलन करने के बाद ही सही कीमत सामने आ पायेगी।