महाष्टमी पर आज उज्जैन में नगरपूजा, चौबीस खंबा देवी को कलेक्टर ने लगाया मदिरा का भोग

 दिनभर 27 किलो मीटर मार्ग पर 40 मंदिरों में जाकर करेंगे पैदल पूजा

ब्रह्मास्त्र उज्जैन। महाअष्टमी के मौके पर उज्जैन में आज बुधवार को सरकारी नगर पूजा की जा रही है। गुदरी स्थित चौबीस खंबा माता मंदिर पर परंपरागत रूप से कलेक्टर आशीष सिंह ने सुुुबह 8 बजे देवी को शराब चढ़ाकर भोग लगाया और पूजा की शुरुआत की। मान्यता है माता की पूजा राजा विक्रमादित्य करते थे। ऐसा करने से शहर में महामारी नहीं होती थी।

इस परंपरा का निर्वहन अब भी प्रशासन द्वारा किया जा रहा है। यहां माता को भोग लगाने के बाद शहर में 27 किमी के बीच आने वाले 40 मंदिरों में पैदल जाकर यह पूजन सम्पन्न किया जाएगा। कलेक्टर भी कुछ दूर तक शराब की हंडी लेकर पैदल चले। चौबीस खम्बा माता मंदिर में महालया और महामाया देवी को शराब चढ़ाने के पहले मां की पूजा व आरती की गई। सुबह से प्रारंभ यह पूजा रात को खत्म होगी। प्राचीनकाल में भगवान महाकाल के मन्दिर में प्रवेश करने और वहां से बाहर की ओर जाने का मार्ग चौबीस खंबों से बनाया गया था। इस द्वार के दोनों किनारों पर देवी महामाया और देवी महालाया की प्रतिमाएं स्थापित है। सम्राट विक्रमादित्य ही इन देवियों की आराधना किया करते थे। उन्हीं के समय से अष्टमी पर्व पर यहां शासकीय पूजन किये जाने की परम्परा चली आ रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *