April 20, 2024

उज्जैन। मुल्लापुरा में हुई 2 बसों की भिड़ंत में घायल छात्र की उपचार के दौरान 10 दिन बाद शनिवार रात मौत हो गई। दुर्घटना में एक बस के चालक की घटनास्थल पर मौत होना सामने आया था। 2 मार्च को मुल्लापुरा में आमने-सामने भाटी और गुर्जर ट्रेवल्स की बस में भिड़ंत हो गई। भाटी बस के चालक सुभाष पिता रामचंद्र सेन (परमार) 48 वर्ष निवासी बडऩगर की मौत हो गई थी। 32 यात्री घायल थे। जिसमें गुर्जर बस से उज्जैन से नीमच की यात्रा कर रहा अविनाश पिता गोवर्धन को गंभीर हालत में इंदौर रैफर किया गया था। 10 दिनों तक चले उपचार के बाद शनिवार रात अविनाश की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि वह परीक्षा देने उज्जैन आया था और लौटकर नीमच जा रहा था। विदित हो कि अविनाश को दुर्घटना के बाद डॉक्टरों ने इंदौर रैफर किया था। उसी दौरान सांसद अनिल फिरोजिया घायलों का हालचाल जाने अस्पताल पहुंच गये थे। अविनाश को गेट पर ही स्टेचर पर पटक रखा था। जिसको चढ़ाई गई बॉटल पुलिस आरक्षक लेकर खड़ा था। जिसे देख सांसद ने जमकर नाराजगी जताई थी।