April 18, 2024

ब्रह्मास्त्र इंदौर। एमपी बोर्ड की एग्जाम के बाद अब इंदौर का जिला शिक्षा विभाग 9 वीं और 11 वीं क्लास की गवर्नमेंट स्कूलों की एग्जाम की तैयारी में लग गया है। 15 मार्च से 9 वीं और 11 वीं की एग्जाम शुरू होने वाली है। बोर्ड एग्जाम की तर्ज पर इस एग्जाम को कंडक्ट किया जा रहा है। एग्जाम के लिए भोपाल से ही एग्जाम की गोपनीय सामग्री आती है। जिसे 13 मार्च को डिस्ट्रीब्यूट किया जाएगा। एग्जाम को लेकर विभाग तैयारियों में लगा है। इस एग्जाम में इंदौर जिले के करीब 25 हजार स्टूडेंट्स शामिल होंगे। यह एग्जाम अप्रैल फर्स्ट वीक तक चलेगी। एग्जाम में फ्लाइंग स्क्वायड की टीम भी स्कूलों का निरीक्षण करेगी।

165 गवर्नमेंट स्कूल एग्जाम सेंटर

इंदौर जिले में 165 गवर्नमेंट हाई स्कूल और हायर सेकेंडरी स्कूलों में ये वार्षिक एग्जाम कंडक्ट कराई जाएगी। जहां 9 वीं और 11वीं के स्कूल के स्टूडेंट्स एग्जाम में शामिल होंगे। एग्जाम में 9 वीं के 13 हजार और 11 वीं के 12 हजार स्टूडेंट्स शामिल होंगे। इस प्रकार करीब 25 हजार स्टूडेंट्स एग्जाम देंगे।
जल्द डिस्ट्रीब्यूट होगी गोपनीय सामग्री
जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक नरेंद्र जैन के मुताबिक गवर्नमेंट स्कूलों के 9 वीं और 11 वीं क्लास की एग्जाम भी बोर्ड एग्जाम की तर्ज पर कराई जाएगी। 15 मार्च से इंदौर जिले के सभी गवर्नमेंट स्कूलों में ये एग्जाम शुरू होगी।

बोर्ड एग्जाम की तरह होंगे पेपर

उन्होंने बताया कि जिस प्रकार बोर्ड एग्जाम के पेपर गोपनीय तरीके से आए थे। उसी प्रकार इन एग्जाम के पेपर भी गोपनीय रहेंगे। बोर्ड एग्जाम में 40 नंबर के ऑब्जेक्टिव आए थे। इन एग्जाम में भी 40 नंबर के ही ऑब्जेक्टिव पूछे जाऐगे।