April 20, 2024

उज्जैन। इंदिरानगर में छात्रा की हत्या और डी मार्ट के पास टेक्सी ड्रायवर को गोली मारने वाले 2 बदमाश शनिवार को 8 घंटे के बीच पुलिस की गिरफ्त में आ गये। बुधवार-गुरुवार को 14 घंटे के दोनों संगीन अपराधों के बाद पुलिस ने गिर तारी पर 5-5 हजार का इनाम घोषित किया था। 3 मार्च की सुबह डी मार्ट के पीछे चाय की दुकान के पास लाखन पिता मोहनलाल राठौर 27 वर्ष को लेनदेन के विवाद में रवि पिता उदयसिंह ठाकुर ने गोली मार दी थी। शनिवार तड़के नागझिरी पुलिस को पता चला कि रवि सांवेर के ग्राम शाहदा में अपनी मौसी के घर छुपा हुआ है। टीआई विक्रमसिंह इवने ने अपनी टीम के साथ तड़के 5 बजे दबिश दी। रवि ने पुलिस को देख नींद में भागने का प्रयास किया, लेकिन गिरने से पैर टूट गया। पुलिस उसे हिरासत में लेकर जिला अस्पताल पहुंची और उपचार के लिये भर्ती किया। गंभीर चोंट नहीं होने पर दोपहर में मामले में खुलासा करने के बाद न्यायालय में पेश कर एक दिन की रिमांड पर लिया गया। पुलिस उससे घटना के समय पहने कपड़े और बाइक को जब्त करने का प्रयास कर रही है। रवि से पूछताछ में सामने आया कि 25 हजार का लेनदेन था। 15 माह पहले पैसे उधार दिलाये थे। घटना से एक दिन पहले भी पैसे लेने घर गया था, कहासुनी के बाद लाखन ने दरवाजा बंद कर लिया था। जिसके चलते गुस्से में गोली मार दी। पुलिस के अनुसार लाखन इंदौर के निजी अस्पताल में जिंदगी और मौत से जंग लड़ रहा है।