परिवार को महाकाल मंदिर लेकर आए ड्राइवर की मौत

उज्जैन। इंदौर के डॉक्टर परिवार को महाकाल मंदिर लेकर आए ड्राइवर की शनिवार तड़के अचानक तबियत बिगड़ने के बाद मौत हो गई। मामला संदिग्ध होने पर पुलिस ने मर्ग कायम कर पोस्टमार्टम कराया। महाकाल थाना पुलिस ने बताया कि इंदौर के खजराना में डॉक्टर कुसुम मारू का परिवार शनिवार सुबह भस्मारती में शामिल होने के लिए निजी वाहन से उज्जैन पहुंचा था। डॉक्टर परिवार को ड्राइवर प्रफुल्ल पिता तुलसीराम सुमन 40 उज्जैन लेकर आया था। महाकाल मंदिर के बाहर ड्राइवर ने पार्किंग में गाड़ी खड़ी की। परिवार भस्मारती में शामिल होने जा पाता उससे पहले ड्राइवर प्रफुल्ल की तबीयत बिगड़ गई। उसे लोगों की मदद से जिला अस्पताल लाया गया जहां डॉक्टरों ने परीक्षण के बाद मृत घोषित कर दिया। मामला संदिग्ध होने पर डॉक्टरों ने महाकाल थाना पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मर्ग कायम कर पोस्टमार्टम कराया है। मृतक दो बच्चों का पिता था और 20 सालों से डॉक्टर मारू के यहां ड्राइवरी का काम कर रहा था। वह खजराना इंदौर का निवासी था। संभावना जताई गई है कि उसे दिल का दौरा पड़ा था। पुलिस के अनुसार पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर ही मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा।

You may have missed