सीयूईटी आवेदन फार्म में दे दिया गलत मोबाइल नंबर और ई-मेल

 

नहीं मिली काउंसलिंग की सूचना, अब आवेदन की तिथि नौ जून तक बढ़ाई

इंदौर। कामन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (सीयूईटी) पीजी की परीक्षा देने वाले कई विद्यार्थियों ने आवेदन में गलत मोबाइल नंबर और ई-मेल दर्ज कर दिया, जिससे अधिकांश छात्र-छात्राओं का देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की काउंसिलिंग में पंजीयन नहीं हो पाया है। अब इनकी समस्या को देखते हुए विश्वविद्यालय ने सीयूईटी काउंसिलिंग पीजी में आवेदन करने की तारीख आगे बढ़ाई है।
31 मई तक होने वाले पंजीयन अब नौ जून तक होंगे। इसके चलते विश्वविद्यालय प्रशासन को काउंसिलिंग का शेड्यूल भी बदलना पड़ा है। 10 जून की बजाए अब 19 जून से विद्यार्थियों को सीटें आवंटित की जाएंगी। अधिकारियों के मुताबिक 31 मई तक सिर्फ दो हजार आवेदन आए हैं। शुक्रवार को सैकड़ों विद्यार्थी और अभिभावकों ने विश्वविद्यालय में संपर्क किया और काउंसिलिंग में पंजीयन नहीं करने की बात कही। मामले में अधिकारियों ने कहा कि 13 से 31 मई तक पंजीयन की तिथि रखी थी।
इस बारे में मोबाइल नंबर और ई-मेल पर भी सूचना भेजी गई है। इस पर अभिभावक बोले कि हमें कोई जानकारी नहीं मिली है। अधिकारियों ने यह बात भी कही कि सीयूईटी काउंसिलिंग के बारे में अखबारों व रेडियो पर बताया था। बाद में विद्यार्थियों ने पंजीयन के लिए अतिरिक्त समय मांगा।
प्रवेश समिति की बैठक करने के बाद विश्वविद्यालय ने विद्यार्थियों को आवेदन करने के लिए अतिरिक्त समय दिया है। सीयूईटी समन्वयक के डा. कन्हैया आहूजा का कहना है कि सीयूईटी काउंसिलिंग में बदलाव किया गया है। नौ जून तक विद्यार्थी पंजीयन कर सकते है। प्राप्त आवेदनों के आधार पर मेरिट बनाएंगे। वे कहते हैं कि 19 से 21 जून के बीच सीयूईटी काउंसिलिंग का पहला चरण होगा।

43 कोर्स की 1300 सीटें

विश्वविद्यालय के 17 अध्ययनशालाओं से संचालित पाठ्यक्रम में सीयूईटी काउंसिलिंग के माध्यम से विद्यार्थियों को प्रवेश दिया जाएगा। 43 पीजी कोर्स की 1300 सीटें हैं। 17 एमबीए, 6 एमई, एमएससी इंडस्ट्रियल माइक्रो बायोलाजी, लाइफ साइंस, डाटा साइंस, गणित, डाटा साइंस लाजिस्टिक्स, स्टैटिटिक्स, 3 एमटेक, एलएलएम, एम फार्मा सहित अन्य कोर्स शामिल हैं।
सीयूईटी पीजी की परीक्षा देने वाले 40 हजार विद्यार्थियों ने विश्वविद्यालय के पाठ्यक्रमों में रुचि दिखाई है, मगर काउंसिलिंग के लिए दो हजार विद्यार्थियों ने 31 मई तक पंजीयन करवाया है।

You may have missed