रामघाट पर लाइटिंग, साफ सफाई ,अनाउंसमेंट की व्यवस्थाओं को सुधारें 

0

 

-कलेक्टर बोले सभी शासकीय कार्यालय सुव्यवस्थित और सुचारू रुप से संचालित किए जाएं

-महाकाल लोक स्थित नाले की सघन सफाई की कार्ययोजना बनाएं ,मतगणना की तैयारियां 30 मई तक पूरी की जाएं

 

 

 

उज्जैन। बुधवार को प्रशासनिक संकुल भवन में आयोजित समयसीमा की बैठक में कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने सभी विभाग प्रमखों को निर्देशित किया कि विभागीय कार्यालयों का सुव्यवस्थित और सुचारू ढंग से संचालन कराएं। पूर्व से संचालित कार्यों में निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने में गति लाएं। सभी विभाग प्रमुख लैंड एलॉटमेंट, भूमि अधिग्रहण के प्रकरणों को चिन्हित कर उनकी जानकारी कल सुबह तक भेजना सुनिश्चित करें।

कलेक्टर ने कहा कि योजनाओं में नवीन हितग्राहियों को लाभ देने के अतिरिक्त सभी भूमि अधिग्रहण,भूमि आवंटन ,भुगतान , डिसीजन लेने इत्यादि से संबंधित लंबित नस्तियों का शीघ्र निराकरण कराएं। नस्तियां अनावश्यक रूप से लंबित न रहें।

जीर्णशीर्ण भवन डिस्मेंटल किए जाएं-

जीर्णशीर्ण भवनों को चिन्हित कर उनके डिस्मेंटल की कार्यवाही की जाएं। विशेष रुप से ऐसे जीर्णशीर्ण भवन जो किसी स्कूल, आंगनवाड़ी, अस्पताल आदि के आस पास हैं, उन्हें प्राथमिकता से डिस्मेंटल कराएं। शासकीय भवनों के संबंध में पीडब्ल्यूडी से जांच करवाकर उनका डिस्मेंटल कराया जाएं। ताकि किसी प्रकार की दुर्घटना न हों।

रामघाट की व्यवस्था सुधारें-

उन्होंने नगर निगम को निर्देश दिए कि रामघाट पर व्यवस्थाओं को सुधारा जाएं। घाट पर व्यवस्थित लाइटिंग, साफ सफाई और अनाउंसमेंट की व्यवस्था रहें। महिलाओं के लिए चेंजिंग रूम की पर्याप्त उपलब्धता रहें।  महाकाल लोक स्थित नाले की भी सफाई के लिए स्मार्ट सिटी के माध्यम से पूरी कार्ययोजना बनाई जाए। सीएमएचओ द्वारा एंटीवेनम की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित की जाएं। मौसम जनित बीमारियों से बचाव के लिए ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में आवश्यक दवाइयों के छिड़कांव के लिए सघन अभियान चलाएं।

 

नाले-नालियों की सफाई की निगरानी होगी-

वर्षा पूर्व तैयारियों के संबंध में निर्देश दिए कि होमगार्ड द्वारा आवश्यक सुरक्षा उपकरण खरीदने के लिए जानकारी शीघ्र भेज दी जाएं। नगर के नाले नालियों की सफाई के निर्देशों के बावजूद नालों की सफाई नहीं की जा रही हैं। नगर निगम नालों की व्यवस्थित रूप से सफाई कराएं। जिसकी निगरानी के लिए जिला स्तरीय अधिकारियों की ड्यूटी भी लगाई जायेगी।

पहला रेंडमाईजेशन 25 मई को-

उन्होंने मतगणना की तैयारियों की भी विस्तार से समीक्षा की। जिसमें बताया गया कि काउंटिंग टीम को मतगणना के संबंध में व्यवस्थित ट्रेनिंग दी जाएगी। साथ ही काउंटिंग की पूरी मॉक ड्रिल भी होगी। बताया गया कि मतगणना टीम के तीन रेंडामाईजेशन किए जायेंगे। पहला रेंडामाईजेशन 25 मई को होगा। मतगणना केंद्र इंजीनियरिंग कॉलेज में भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशों के अनुरूप 30 मई तक सभी आवश्यक तैयारियां पूर्ण कराने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि मतगणना केंद्र पर निर्धारित नेटवर्क कंपनी के माध्यम व्यवस्थित इंटरनेट कनेक्शन की उपलब्धता रहें । ताकि कम्युनिकेशन में कोई समस्या न आएं।

शेष किसानों को भूगतान किया जाए-

उपार्जन की समीक्षा कर उन्होंने निर्देश दिए कि शेष किसानों का सफलतापूर्वक भुगतान किया जाएं। समितियों द्वारा अपग्रेडेशन की कार्यवाही शुक्रवार तक कर ली जाएं। उन्होंने उर्वरकों के अग्रिम भण्डारण की भी जानकारी ली। उन्होंने निर्देश दिए कि समितियों को एक्टिवेक्ट कर किसानों को उर्वरकों का वितरण किया जाएं। उर्वरकों का सुचारू रूप से भंडारण और वितरण कराएं।

 

सिंहस्थ कार्ययोजना की समीक्षा-

बैठक में कलेक्टर श्री सिंह ने स्वीकृत निर्माण कार्यों , अतिक्रमण आदि की भी समीक्षा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने सिंहस्थ की प्रस्तावित कार्ययोजना की भी विस्तार से समीक्षा की। समयावधि के पत्रों की भी विभागवार समीक्षा कर कलेक्टर श्री सिंह ने प्रकरणों का निराकरण करने के निर्देश दिए। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री मृणाल मीना, एडीएम श्री महेन्द्र कवचे, एडीएम श्री अनुकूल जैन, सीईओ यूडीए श्री संदीप सोनी, कार्यकारी निदेशक एमपीआईडीसी श्री राजेश राठौर सहित सभी विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *