नरवर के पिपलोदा द्वारकाधीश में जघन्य हत्याकांड पूर्व सरपंच को घोंपे गये चाकू, पत्नी का रेता गया था गला -तलाश में लगी एसआईटी, गिरफ्तरी पर घोषित किया 20 हजार का इनाम

दैनिक अवंतिका(उज्जैन) देवासरोड पर ग्राम पिपलोदा द्वारकाधीश में शनिवार सुबह उस वक्तसनसनी फैल गई, जब पूर्व सरपंच और उनकी पत्नी का रक्त रंजीत शव घर में पड़ामिला। पूर्व सरपंच को चाकू घोंपे गये थे। पत्नी का गला रेता गया था। घटनाका पता चलते ही एसपी सचिन शर्मा मौके पर पहुंच गये। खोजी डॉग, फिगरप्रिंट टीम, एफएसएल, सायबर और पुलिस मामले की वजह और आरोपियों की तलाशमें लग गई।नरवर थाना क्षेत्र के ग्राम पिपलोदा द्वारकाधीश में सुबह पूर्व सरपंच औरभाजपा मंडल अध्यक्ष रहे रामनिवास पिता उदीलाल कुमावत 69 वर्ष का मकान बनाहुआ है। वह खेती किसानी के साथ डेयरी फार्म संचालित करते थे। सुबह सुरेशनामक मुंहबोला साला पहुंचा तो उसने रामनिवास कुमावत और उनकी पत्नीमुन्नीबाई 60 वर्ष की रक्त रंजीत लाश घर में जमीन पर पड़ी देखी। दोनों की
निर्मम तरीके से हत्या की गई थी। वृद्ध दंपति की हत्या होने की खबर मिलतेही पुलिस मौके पर पहुंची। घर में सामान बिखरा पड़ा था। डकैती (लूटपाट)होने का मामला सामने आने पर एसपी सचिन शर्मा, एएसपी गुरूप्रसाद पारशर,टीआई मुकेश इजारदार मौके पर पहुंच गये। रामनिवास के सीने और शरीर परधारदार चाकू जैसे हथियार के निशान थे। मुन्नीबाई का गला रेता गया था।ग्राम में पूर्व सरपंच और उनकी पत्नी की हत्या किये जाने की खबर फैलते हीपूरा गांव एकत्रित हो गया। रामनिवास का मकान काफी बड़ा बना हुआ है। वहींउनका डेयरी फार्म, वेयर हाऊस भी है। एसपी सचिन शर्मा ने बताया किघटनाक्रम का पता लगाने के लिये एसआईटी गठित कर दी गई है। सभी टीमें
आरोपियों का पता लगाने में लगी है। एएसपी गुरूप्रसाद पारशर ने बताया किमामले में आरोपियों की गिरफ्तारी के लिये 20 हजार का इनाम घोषित किया गयाहै। जल्द मामले  का पर्दाफश करने के प्रयास जारी है।बंदूक मिलने पर गोली मारने की फैली खबरपुलिस जांच के दौरान घटनास्थल पर एक बंदूक मिली थी, जिसके बाद खबर फैल गईकि पूर्व सरपंच और उनकी पत्नी को गोली मारी गई है। लेकिन पुलिस ने गोलीचलने की बात से इंकार कर दिया, बावजूद पोस्टमार्टम से पहले मृतक दंपति काएक्सरे कराया गया। जिसमें धारदार हथियार के निशान होना सामने आये है।बताया जा रहा है कि बंदूक रामनिवास की लायसेंसी है, संभवत: उन्होने घरमें घुसे बदमाशों का सामान करने के लिये बंदूक उठाई होगी। हत्या करनेवालों ने घर में लगे सीसीटीवी कैमरे तोड़ दिये थे। डीवीआर को जांच में
लिया गया है।350 बीघा जमीन, बेटा मंडी कारोबारीमृतक पूर्व सरपंच के रिश्तेदार जनपद सदस्य सत्यनारायण कुमावत ने बताया कि
रामनिवास वर्ष 2010 से 2015 तक सरपंच रहे है। उनकी 300 से 350 बीघा केकरीब जमीन है। एक पुत्र राजेश है, जो देवास में मंडी कारोबारी है। उनकीबेटी संगीता की शादी हो चुकी है। पिपलोदा द्वारकाधीश में दोनों पति-पत्नीरहते थे। परिवार देवास में ही रहता है। घर से सामान के संबंध में परिवारही जानकारी स्पष्ट कर पायेगा।कार्यक्रम में गये थे पंजाब रामनिवासघटनाक्रम के बाद जानकारी सामने आई कि रामनिवास एक कार्यक्रम में पंजाबगये थे और 2 दिन पहले ही वापस लौटते थे। गांव में उनका व्यवहार मिलनसारथा। वह लोगों की मदद करते थे। उन्होने ब्याज से रूपये भी दे रखे थे।लेकिन किसी को लौटाने के लिये परेशान नहीं किया।पीछे खिड़की की टूटी मिली ग्रिल
पुलिस की जांच में सामने आया है कि दंपति की हत्या करने वाले मकान केपिछले हिस्से की खिड़की की ग्रिल तोड़कर अंदर आये थे। घटना के बाद दरवाजाखोलकर भागे है। सुबह जब सुरेश पहुंचा तो आगे का दरवाजा बंद था। पीछे जानेपर दरवाजा खुला मिला था।घटना का दुखद और निंदनीय-मुख्यमंत्रीनरवर के पिपलोदा द्वारकाधीश में हुई घटना के बाद मुख्यमंत्री डॉ. मोहनयादव ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि भाजपा नेता रामनिवास और उनकीपत्नी के साथ हुई घटना दुखद और निंदनीय है। दोनों दिवंगत आत्माओं को बाबामहाकाल मोक्ष प्रदान करे। उन्होने कहा कि कलेक्टर और एसपी को निर्देशदिये है कि आरोपियों को शीघ्र खोजे और कठोर कार्रवाई करें।

Author: Dainik Awantika