प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव को लेकर पूरे देश के साथ-साथ चारो और हुए ऐतिहासिक धार्मिक अनुष्ठान

रुनीजा। आखिर 22 जनवरी की जिस घड़ी और ऐतिहासिक पल का पूरा देश बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रहा था वह घड़ियां विभिन्न कई दिनों के तपस्या के बाद पूरे देशवासियों राम भक्तों का की समाप्त हुई। उत्साह उमंग और राम से बड़ा राम का नाम इस इस भावना के साथ चारों ओर बच्चे बच्चे के मुंह से गूंज रहा था जय श्री राम इस प्राण प्रतिष्ठा के ऐतिहासिक महोत्सव को लेकर गरीब से लेकर आमिर के घर तक एक अलग उत्साह व जुनून था चारों ओर कहीं पांच दिवसीय , सप्तदिवसिय आयोजन थे। कही कही विगत एक माह से प्रभात फेरिया के दौर और धार्मिक अनुष्ठान चल रहे थे। जैसे ही अयोध्या में शुभ मुहूर्त में प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव का कार्यक्रम प्रारंभ हुआ गांव-गांव हवन पूजन और उत्साह के साथ अनुष्ठान की दौर प्रारंभ हो गए। इसी कड़ी में क्षेत्र के मसवाड़िया धार , गजनी खेड़ी , माधवपुरा , खेडावदा , बड़गांवा, बड़नगर तहसील के आंचल का कोई भी ऐसा गांव नहीं था जहां आज धार्मिक अनुष्ठान के दौर नहीं चल हो या हवन पूजन के साथ भव्य भंडारे नहीं हो रहे हो। मंदिर के साथ घर आँगन मे आकर्षक सजा के साथ जय श्री राम के जय घोष गूंज रहे थे । इसी कड़ी मसवाडिया धार में प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव बड़े हर्ष और उल्लास के साथ मनाया गया गांव के मन्दिर को आकर्षक साजाया गया और यज्ञ का आयोजन किया गया। जिसके मुख्य यजमान ठाकुर जयेंद्र सिह थे। भव्य गंगा जल कलश यात्रा नारायण सिह के सानिध्य ने निकाली यात्रा में धर्म ध्वजा किये युवा ऊंट पर सवार थे। कलश यात्रा यात्रा में बड़ी संख्या मातृ शक्ति कलश उठाये चल रही थी। यात्रा का स्वागत गजनी खेड़ी के सरपंच प्रतिनिधि कौटिल्य सिंह राठौर , सुरेश शर्मा , भारत सिंह, नितेश शर्मा , रवि शर्मा , संजय जैन , नारायण सिंह, शुभम गुर्जर चेन सिह ने किया। यात्रा के मन्दिर पहुचने पर महा आरती के बाद पूरे ग्राम वासियो के सहयोग से भण्डारे का आयोजन हुआ। आयोजन की पूर्व संध्या पर सुंदरकांड के पाठ का आयोजन भी हुआ। उक्त जानकारी योगेश पुरोहित ने दी। श्री राम नवयुवक रामायण मंडल ने अखंड रामायण के पाठ के बाद यज्ञ का आयोजन हुआ जिसमें हर घर से यज्ञ में पांच आहुति दिलवाई गई। नगर भवत शोभायात्रा नीकली जिसका दुर्गा वाहिनी , विश्व हिंदू परिषद ,बजरंग दल, महावीर युवा मित्र मंडल , सकल धाकड़ पंच ,महावीर व्यायाम शाला ने के सदस्यों ने स्वागत किया। तत्पश्चात महाआरती के बाद भंडारा का आयोजन किया गया जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित हुए।
सुसनेर। समीपस्थ ग्राम मोडी में सोमवार को श्रीराम प्राण प्रतिष्ठा समारोह के अवसर पर विशाल चल समारोह निकाला गया। जिसमें हजारों की संख्या में ग्रामीणजन भगवावस्त्र पहन सिर पर केसरिया साफा बांधकर श्रीराम के भजनों पर झुमते हुए निकले। चल समारोह में श्रीराम मंदिर समिति, प्राचीन श्रीगोवर्धन नाथ जी मंदिर समिति, श्रीकृष्ण मंदिर समिति, आवास कालोनी स्थित श्रीहनुमान मंदिर समिति, बाबा रामदेव मंदिर समिति, श्रीदेवनारायण मंदिर, बागरी का खेड़ा स्थित माताजी मंदिर, बाबा रामदेव भंडारा समिति,श्री दिगम्बर जैन मंदिर समिति,नलखेड़ा रोड स्थित श्रीखेडापति बालाजी सरकार धाम समितियां संयुक्त रूप से अपने अपने ढोल नगाड़े के साथ शोभायात्रा में शामिल हुई। वहीं हाटचौक में विश्व हिन्दु परिषद द्वारा आयोजित सामूहिक हनुमान चालीसा पाठ में 3100 से भी अधिक महिलाएं पुरुषों एवं बच्चों ने भाग लिया उसके पश्चात भगवान श्रीराम की महाआरती का आयोजन भी हाट चौक में किया गया। चल समारोह श्रीराम मंदिर से शुरू होकर नगर भ्रमण करते हुए नलखेड़ा रोड स्थित श्रीखेडापति बालाजी सरकार धाम मंदिर में महाप्रसादी वितरण के साथ समाप्त हुआ। शोभायात्रा में सरस्वती शिशु मंदिर, कान्हा एकेडमी हाईस्कूल, श्रीनाथ इंटरनेशनल स्कूल सहित अन्य स्कूलों की श्रीराम की झांकीया भी हुई शामिल।पुरे कार्यक्रम के दौरान थाना प्रभारी अनिल मालवीय अपने पुलिस बल के साथ गांव मोडी में रहे।
बिछड़ौद। नगर में अयोध्या में बने श्रीराम मंदिर में श्रीराम भगवान की मूर्ति स्थापना एवं प्राण- प्रतिष्ठा महोत्सव को लेकर गांव- गांव में प्रभातफैरियां निकाली गई। प्राण- प्रतिष्ठा को लेकर गांव- गांव में हो रहे भव्य आयोजनों के चलते ग्रामीणों में भारी उल्लास देखा गया। जिसमें हर वर्ग समाज के सैंकड़ों युवाओं के साथ बच्चे, बुजुर्ग और युवतियां एवं महिलाएं आदि भी शामिल हुए। बिछड़ौद के चौक बाजार स्थित अतीप्राचीन श्री पंचमुखी हनुमान मंदिर में भी अनेक आयोजन संपन्न हुए। सर्वप्रथम सुबह 5:30 बजे से प्रभात फैरी निकाली गई। बाद में 10 बजे से विधि- विधान पूर्वक श्रीरामजी एवं श्रीहनुमानजी का भव्य अभिषेक करते हुए भावपूर्वक मनोहारी रुप में आकर्षक श्रृंगार किया गया। इधर श्री मारुतिनंदन हनुमान मंदिर, श्री खेड़ापति हनुमान मंदिर, नागदा अग्निहोत्री ब्राह्मण समाज श्रीराम मंदिर, क्षेत्रीय राठौर समाज श्री लक्ष्मीनारायण मंदिर, दर्जी समाज श्रीराम मंदिर, त्रिवेदी समाज श्रीराम मंदिर, दलित समाज के श्रीराम मंदिर सहित अन्य प्रमुख मंदिरों में आकर्षक विद्युत साज- सज्जा करते हुए देवी- देवताओं का आकर्षक श्रृंगार कर छप्पन भोग भी लगाया गया। तत्पश्चात भव्य रुप में श्रीराम- सीताजी, श्रीहनुमानजी, श्रीलक्ष्मणजी की वेशभूषा धारण कर भव्य जुलूस निकाला गया। जुलूस का व्यापारियों ने भव्य स्वागत किया। जुलूस में युवाओं, बच्चों, बुजुर्गों, युवतियों ने भाग लेकर नगर भ्रमण किया। वहीं सैंकड़ों युवा जोशीले तेवर में जय श्री राम के जयकारे लगाते हुए आतिशबाजी की। वहीं बुजुर्ग, युवतियाँ और महिलाएं भजन- कीर्तन करते तो झुमते- गाते हुए निकली। जुलूस श्री पंचमुखी हनुमान मंदिर से शुरू हुआ, जोकि गांव के प्रमुख मार्गों से होकर वापस मंदिर परिसर पहुंचा, जहां महाआरती की गई। इस दौरान एसडीएम रंजना पाटीदार, तहसीलदार प्रकाश परिहार, थाना प्रभारी आनंद भाबोर, उपनिरीक्षक प्रवेश जाटव सहित भारी पुलिस बल का दल- बल भी दिनभर तैनात रहा। आयोजन के समापन पर भव्य भंडारे का भी आयोजन हुआ। जिसमें हजारों ग्रामीणों ने भोजन प्रसादी का लाभ लिया। इस अवसर पर व्यापारी एसोसिएशन, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, विश्व हिन्दू परिषद्, बजरंग दल, युवा छात्र संगठन, दलित समाज संगठन के सदस्यों सहित हजारों की संख्या में ग्रामीणजन, महिलाएं आदि मौजूद रहे।
देवास। संस्था देववासिनी द्वारा माता टेकरी पर प्रत्येक शनिवार, रविवार को महाआरतीयां आयोजित की जा रही है। जिसमें बड़ी संख्या में भक्तजन बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। संस्था द्वारा देवास नगर के प्रत्येक वार्डों से श्रद्धालुओं को आमंत्रित कर महाआरतियां संपन्न कराई जा रही है। इसी क्रम में विगत शनिवार को वार्ड क्रमांक 13 मुखर्जी नगर, मेंढकी क्षेत्र तथा रविवार को वार्ड क्रमांक 5 प्रताप नगर, महाकाल कालोनी, कालूखेड़ी क्षेत्र के श्रद्धालुओ ने अपने हाथों से मां तुलजा भवानी, मां चामुंडा देवी की आरती की।
संस्था देववासिनी के सचिव महेश चौहान ने बताया कि शनिवार और रविवार को वार्ड के स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने वार्ड वासियों सहित टेकरी पर पहुंचकर माताजी को चुनरी, श्रंगार भेंट कर पुजन किया और आरती उतारी। 22 जनवरी को अयोध्या में श्री राम प्रभु की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा की पूर्व संध्या पर रविवार को आयोजित महा आरती में श्री रामजी कि आरती के साथ भजनों पर श्रद्धालु झूम उठे। पूरा वातावरण राम में हो गया देववासिनी पर्वत टेकरी के मंदिर में मौजूद एक भी श्रद्धालु ऐसा नहीं था जो भगवान श्री राम की धुन पर नाचता गाता दिखाई ना दे रहा हो, हर कोई भक्ति में लीन हो गया था।

Author: Dainik Awantika