हत्या के मामले में जेल में बंद हुआ आरोपी…बाथरूम में गिरकर मरा

उज्जैन। तराना के समीप मोडख़ेड़ा में 5 साल पहले रिश्तेदार की हत्या के मामले में 8 दिन पहले आरोपी को कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी और 13 तारीख को उसे भैरवगढ़ जेल में लाया गया था। कल रात उक्त कैदी की बाथरूम में गिरने से मौत हो गई। तत्काल उसे अस्पताल लाया गया। आज सुबह मृतक के शव का पोस्टमार्टम कराया गया।

भैरवगढ़ थाना पुलिस ने बताया कि हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा होने के बाद तराना के मोडख़ेड़ा में रहने वाले इंदरसिंह पिता भेरूसिंह को 13 जनवरी को भैरवगढ़ जेल लाया गया था। कल रात वह बाथरूम में गिरा और उसकी मौत हो गई। तत्काल उसे अस्पताल लेकर आए जहाँ परीक्षण के बाद चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उसकी मौत की खबर पता चलने के बाद जेल में हडक़ंप मच गया था। आज सुबह उसका पोस्टमार्टम कराया गया। सूचना के बाद उसके परिवार के लोग आ गए थे। पुलिस ने बताया इंदरसिंह ने 23 मई 2018 को उसने अपने रिश्तेदार की हत्या कर दी थी और 11 जनवरी को ही कोर्ट ने उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। 13 जनवरी को उसे तराना से जेल भेजा गया था।

सजा होने के बाद 13 जनवरी को ही तराना से भैरवगढ़ जेल लाया गया था-फाँसी की सजा पाया कैदी बीमार हुआ

इधर जेल सूत्रों ने बताया कि 6 साल पहले मंदसौर निवासी इरफान को दुष्कर्म के मामले में मंदसौर कोर्ट ने फाँसी की सजा सुनाई थी और उसे भैरवगढ़ जेल में रखा हुआ है। कल दोपहर उसकी तबीयत खराब होने के बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

रिपोर्ट विकास त्रिवेदी 

Author: Dainik Awantika