शाम ढलते ही घातक चायना की तलाश में निकली पुलिस -आज छतों पर दबिश देगी पुलिस, रात 2 बजे तक रखी नजर

दैनिक अवंतिका(उज्जैन) प्रतिबंधित चायना डोर से आज पतंगबाजी ना हो इसको लेकर पुलिस नेशनिवार शाम ढलते ही तलाशी अभियान तेज कर दिया था। देर रात तक बाजार केसाथ पतंग-डोर खरीदकर ले जाने वालों पर नजर रखी जा रही थी। आज घरों कीछतों से होने वाली पतंगबाजी को लेकर भी पुलिस दबिश देने का काम करेगी।चायना डोर पर लगे प्रतिबंध के बावजूद पतंग उड़ाने वाले इसका उपयोग मकरसंक्रांति पर पतंग उड़ाने के लिये लगातार कर रहे है। जिसके घातक परिणामप्रतिवर्ष सामने आ रहे है। 1 दिसंबर को प्रतिबंधित आदेश को पुन: एक्टिवकिया गया था, जिसके बाद पुलिस ने पतंग बाजार में पहुंचकर प्रतिबंधित डोरका व्यापार-व्यवसाय नहीं करने की मुनादी दुकानदारों से करा दी थी। रविवारऔर सोमवार को पतंगबाजी अपने चरम पर होगी। इससे पहले शनिवार शाम को पुलिसघातक डोर की तलाश में निकल पड़ी। शहर के हर थाना क्षेत्र में तलाशी अभियानचलाया गया। वहीं महाकाल, जीवाजीगंज और माधवनगर थाना क्षेत्र में लगनेवाले पतंग बाजार में पुलिस ने अपनी नजरे जमा दी। जहां दुकानों पर तलाशीअभियान चलाया जा रहा था, वहीं पतंग-डोर खरीदकर ले जाने वालों की जांच कीजा रही थी। महाकाल क्षेत्र के तोपखाना में जहां पुलिस सादी वर्दी में रात2 बजे तक नजर रखे हुए थी। वहीं शाम ढलने के बाद आसपास के क्षेत्रों मेंतलाशी अभियान चलाया जा रहा था।ड्रोन और दूरबीन से रखी जा रही नजरपतंगबाजी का पर्व मकर संक्रांति के करीब आते ही पुलिस ने आसमान में उड़तीपतंगों में प्रतिबंधित घातक चायना डोर पर नजर रखने के लिये ड्रोन औरदूरबीन की मदद लेना शुरू कर दिया था। हर थाना क्षेत्र में ड्रोन उड़तादिखाई दे रहा है। पुलिस ग्राहक बनकर भी तलाशी अभियान चला रही थी। प्रमुखबाजारों के साथ फुटकर पतंग की दुकानों पर भी पुलिस पहुंच रही है। आजपुलिस अत्याधुनिक उपकरणों के साथ घरों की छतों पर दबिश देने का कामकरेगी। ताकि घातक डोर से होने वाले हादसों पर पूरी तरह से अंकुश लगाया जासके।

Author: Dainik Awantika