पत्नी मायके गई थी, पति ने लगा ली फांसी ,रात युवती द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या

दैनिक अवन्तिका ब्रह्मास्त्र. उज्जैन। गुरूवार सुबह युवक ने दरवाजा बंद करने के बाद फांसी लगा ली।
परिजनों को पता चला तो दरवाजा तोड़कर नीचे उतारा और अस्पताल लेकर पहुंचे।
जहां डॉक्टरों ने परीक्षण के बाद मृत घोषित कर दिया। मृतक युवक की पत्नी
15 दिनों से मायके गई हुई थी। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
नाग­िारी थाना एसआई आरपी वेद ने बताया कि जिला अस्पताल से सूचना मिली थी
कि दीपक पिता रमोश्वर डाबी 28 वर्ष निवासी राजीवगांधी नगर मालनवासा की
फांसी लगाने से मौत हो गई है। परिजन उसे अस्पताल लेकर पहुंचे थे। सूचना
पर पुलिस ने मर्ग कायम किया और पोस्टमार्टम कराने के लिये जिला अस्पताल
पहुंची। जहां भाई विनोद ने बताया कि बताया कि दीपक की शादी चार साल पहले
हो चुकी थी। उसकी पत्नी पूजा 15 दिनों से मायके पिपलोदा गई हुई है। दीपक
डीपी ज्वेलर्स पर गार्ड का काम करता था। सुबह जब नींद से नहीं जागा तो
उसे उठाने के लिये पहुंचा था। दरवाजा बंद होने पर खिड़की से देखा। एसआई
वेद के अनुसार मामले में जांच की जा रही है। घटनास्थल का निरीक्षण और
परिजनों के बयान से ही फांसी लगाने का कारण सामने आ पायेगा।
फरवरी में थी शादी, रात में दी जान
माधवनगर थाना क्षेत्र के लक्ष्मीनगर में भी बुधवार-गुरूवार रात युवती
द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या किये जाने का मामला सामने आया है। गुरूवार
सुबह पोस्टमार्टम के दौरान परिजनों ने बताया कि पूजा पिता बिहारीलाल कौशल
30 वर्ष रतलाम की रहने वाली है और डेढ़ माह पहले बुआ के यहां रहने के लिये
आई थी। 26 फरवरी 2024 को उसकी शादी होने वाली थी। मृतिका की बुआ के पुत्र
सतीश ने बताया कि पूजा ने दरवाजा बंद करने के बाद आत्मघाती कदम उठाया है।
पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपा जांच शुरू की है।

Author: Dainik Awantika