April 16, 2024

दैनिक अवंतिका
उज्जैन। एमआर-5 मार्ग पर प्रजापति ढाबे के पास ­ाुग्गी-­ोपडी से शुक्रवार को पुलिस ने महिला का शव बरामद किया था। महिला के शरीर पर चोंट के निशान थे। मामले में पति को पूछताछ के लिये हिरासत में लिया गया। जिसने हत्या करना कबूल कर लिया। पुलिस ने धारा 302 का प्रकरण दर्ज कर रविवार को न्यायालय में पेश कर जेल भेजा है।
चिमनगंज थाना एसआई प्रियंका नायक ने बताया कि एमआर-5 मार्ग शराब दुकान से कुछ दूरी पर प्रजापति ढाबा बना हुआ है। जहां कच्चे मिट्टी के मकान बनाकर बंजारा समाज के लोग रहते है। शुक्रवार दोपहर को ­ाुग्गी-­ोपडी में मांगू बाई पति बापू बंजारा 40 वर्ष की लाश बरामद की थी। जिसके शरीर पर चोंट के निशान थे। शव को जिला अस्पताल भेज पोस्टमार्टम कराया गया। चोंट के निशान मारपीट के होना सामने आये। शंका के आधार पर पति को हिरासत में लिया गया। जिससे 2 दिनों की पूछताछ के बाद सामने आया कि उसने शराब के नशे में विवाद होने पर डंडे से पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। मामले का खुलासा होने पर धारा 302 का प्रकरण दर्ज किया गया। ­ोपडी से आरोपित बापू की निशानदेही पर डंडा बरामद किया गया। रविवार दोपहर न्यायालय में पेश किया गया। जहां से न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। अंतिम संस्कार की कर चुका था तैयारी
बताया जा रहा है कि बापू बंजारा और उसकी पत्नी मांगूबाई शराब का सेवन करते थे। गुरूवार-शुक्रवार रात दोनों ने शराब पी थी, जिसके बाद विवाद हो गया। बापू बंजारा ने डंडे से ही उसे इतना पीटा कि मौत हो गई। रात का समय होने पर किसी को जानकारी नहीं लग पाई। उसने सुबह आसपास रहने वाले समाजजनों को बताया कि रात में दुर्घटना हो गई थी। जिसमें मांगूबाई की मौत हो गई। पति और समाजजनों ने अंतिम संस्कार की तैयारी शुरू कर दी थी। उसी दौरान मामला संदिग्ध दिखाई देने पर लोगों ने पुलिस को सूचना दी थी।
मृतक महिला का चौथा पति था बापू
मृतक महिला बंजारा समाज की थी, उसने पहले पति को छोड़ दिया था, दूसरा पति अपराधिक मामले में जेल चला गया था। तीसरा पति करने के बाद उसकी मौत हो गई थी। बापू चौथा पति था, जिसके साथ मांगूबाई कुछ साल से रह रही थी। जानकारी यह भी सामने आई है कि हत्या करने वाला बापू भी पहले से विवाहित था, जिसकी पत्नी के संबंध में पुलिस जानकारी जुटाने का प्रयास कर रही है। मृतिका के पूर्व पति से संतान होने की बात भी सामने आई है।