सीएम शिवराज पत्नी साधना सिंह के संग उज्जैन आए, मंगलनाथ, हरसिद्धि होकर पहुँचे महाकाल

उज्जैन। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार रात करीब 8.15 बजे उज्जैन आए और सबसे पहले मंगलनाथ मंदिर पहुंचे। यहाँ विशेष पूजा, अनुष्ठान में शामिल हुवे। इसके बाद हरसिद्धि मंदिर में दर्शन किये। फिर सबसे आखिरी में महाकाल मंदिर पहुँचे। वे यहां भी विशेष पूजा-अनुष्ठान में शामिल हुए।

तीनो मंदिरों में विशेष पूजा, अनुष्ठान में शामिल हुए, 3 घंटे देरी से यहां पहुंचे..

मुख्यमंत्री शिवराज विधानसभा चुनाव से फ्री होने के बाद पहली बार धार्मिक यात्रा के रूप में उज्जैन आए व देव दर्शन किए। मुख्यमंत्री लगभग 3 घंटे देरी से उज्जैन पहुंचे। पहले वे शाम 5 बजे उज्जैन आने वाले थे। लेकिन वे रात 8:15 बजे यहां आए। इसके पहले उन्होंने मंगलनाथ व हरसिद्धि में दर्शन पूजन किये। मुख्यमंत्री के साथ उनकी पत्नी साधना सिंह भी आई। दोनों ने साथ मे पूजा की। दोनों मंदिरों में पूजा के बाद मुख्यमंत्री महाकाल मंदिर में अनुष्ठान में भाग लेने पहुँचे। मुख्यमंत्री का पूजन पुजारी दिलीप गुरु ने कराया। नंदीहॉल में मंत्रोच्चार के बीच मुख्यमंत्री का स्वागत, सम्मान किया गया। इस दौरान पुजारी बाला गुरु, पुजारी विजय गुरु भी मौजूद थे।

विधानसभा चुनाव में जीत के लिए..चल रहे पूजा, अनुष्ठान में शामिल..

मुख्यमंत्री ने बाबा महाकाल की पूजा-अर्चना की और सफलता का आशीर्वाद लिया। यह पूजा-अनुष्ठान मुख्यमंत्री की चुनाव में जीत के लिए किए गए है। मंदिर में पूजा, अनुष्ठान के दौरान उज्जैन के स्थानीय भाजपा नेता भी मुख्यमंत्री के साथ रहे।

मुख्यमंत्री महाकाल लोक से ई-कार्ट..में बैठकर आए मंदिर तक..

मुख्यमंत्री महाकाल लोक से ई-कार्ट में बैठकर मंदिर तक पहुंचे थे। उनके साथ पत्नी साधना सिंह और भाजपा नेता भी साथ मे पीछे बैठकर आए। अनुष्ठान में भाग लेकर दर्शन-पूजन के बाद मुख्यमंत्री रात में वापस उज्जैन से भोपाल के लिए रवाना हो गए।

Author: Dainik Awantika