स्वीफ्ट कार से मिले 6 लाख, बोलेरो में रखे थे 3 लाख -देवासरोड पर चैकिंग में अर्थव एग्रीटेक की थैली से निकले 8 लाख

दैनिक अवन्तिका ब्रह्मास्त्र उज्जैन। निर्वाचन आयोग के निर्देश पर एसएसटी पाइंट पर हो रही चैकिंग में लाखों रूपये मिलने का सिलसिला शुरू हो चुका है। शनिवार को जहां स्वीफ्ट कार से 6 लाख रूपये मिले, वहीं बोलेरो में 3 लाख रूपये रखे थे। इससे पहले चैकिंग में फॉच्र्यूनर कार की सीट के नीचे अर्थव एग्रीटेक की थैली में छुपाकर रखे 8 लाख रूपये बरामद किये गये थे।
आर्दश आचार संहिता लागू होने के बाद निर्वाचन आयोग ने 50 हजार से अधिक की नगद संपत्ति के परिवहन पर उचित डाक्यूमेंट दिखाने के निर्देश जारी किये है। डाक्युमेंट नहीं होने पर संपत्ति (राशि) बरामद करने की बात कहीं गई थी। इसी क्रम में शनिवार सुबह देवासरोड पर पालखंदा चैकिंग पाइंट पर फॉच्र्युनर का क्रमांक एमपी 04 सीएक्स 7777 को चैक किया गया। कार में आष्टा निवासी अमान पिता परवेज अली और ड्रायवर मौजूद थे। पूछताछ में अमान ने प्रापर्टी कारोबारी बताया। एफएसटी ने कार की तलाशी ली। सीट के नीचे से अर्थव एग्रीटेक कम्पनी की थैली मिली। जिसे खोलने पर 8 लाख रूपये होना सामने आये। अमान रूपयों के दस्तावेज दिखा नहीं पाया। पुलिस ने रूपए बरामद करने की कार्रवाई की। नरवर टीआई मुकेश इजारदार ने बताया कि कार्रवाई में प्रशानिक अधिकारी शामिल थे। शाम को बुधवारिया स्थित एसबीआई बैंक से आगे चौराहा पर चैकिंग की जा रही थी।  सीएसपी ओमप्रकाश मिश्रा, तहसीलदार रूपाली जैन की टीम ने बोलेरो को रोक तलाशी ली। जिसमें से 3 लाख कैश मिलना सामने आया। बोलेरो में हिमालय ट्रेडर्स का सहायक कैशियर महेश पिता द्वारिकाप्रसाद निवासी महावीनगर इंदौररोड ने बताया कि दिनभर का कलेक्शन एकत्रित करने हेड़ ऑफिस बुधवारिया जा रहा है। 3 लाख के उचित डाक्युमेंट नहीं होने पर टीम ने जब्त किये है। देर शाम महाकाल टीआई अजय वर्मा एफएसटी के साथ चिंतामण-मोहनपुरा बायपास पर वाहनों की चैकिंग कर रहे थे। स्वीफ्ट कार को रोका गया और जांच की गई। कार में 6 लाख रखे होना सामने आये। पूछताछ करने पर 6 लाख के डाक्युमेंट नहीं मिले। पुलिस ने जब्त कर जाम कर लिये है। स्वीफ्ट में बडऩगर के जूना शहर में रहने वाला स्टाम्प वेंडर पियुष भार्गव मौजूद थे। उनका कहना था कि ग्रामीण क्षेत्रों में जमा हुई स्टाम्प की राशि जमा करने उज्जैन आ रहे थे।
रात में पलवा फंटा पर 2.48 की जब्ती
घट्टिया थाना प्रभारी आनंद भामोर एफएसटी के साथ देर रात चैकिंग पाइंट पर तैनात थे। कार क्रमांक एमपी 09 डब्ल्यू एल 6124 को रोक चैकिंग की गई। कार में 2.48 लाख रूपये रखे थे। कार इंदौर के गांधीनगर में रहने वाले विजय रिजवानी की थी। वह ढाई लाख की राशि के बारे में डाक्युमेंट प्रस्तुत नहीं कर पाया है। एफएसटी ने जब्त कर थाने में जमा कराये है। इससे पहले शुक्रवार शाम खाचरौद एसडीओपी पुष्पा प्रजापति की टीम कनवास एसएसटी चैकिंग पाइंट से 4 लाख 95 हजार 500 रूपये जब्त कर जमा किये थे।
इंदौररोड पर मिला 25 तोला सोना
शुक्रवार रात पंथपिपलाई एसएसटी पाइंट पर पुलिस ने कार की तलाशी के दौरान 25 तोला सोना और 2.77 लाख रूपये बरामद करने की कार्रवाई की। नानाखेड़ा टीआई कमल निगवाल ने बताया कि कार में मुम्बई का व्यक्ति सवार था। जो सोने और नगद रूपयों के डाक्युमेंट नहीं दिखा पाया था। एफएसटी टीम ने जब्त किये है।
इनका कहना
चुनाव के मद्देनजर विधानसभा क्षेत्रों में एसपी सचिन शर्मा के निर्देशन में एसएसटी पाइंट लगाए गये है और एफएसटी बनाई गई है। जो आदर्श आचार संहिता के नियमों का पालन करते हुए चैकिंग कर रही है। वाहनों से मिल रही लाखों की राशि के मामले में एक समिति बनाई गई है, जो संबंधित की जब्त राशि के दस्तावेजों की जांच कर निर्णय लेगी।
गुरूप्रसाद पाराशर, एएसपी

Author: Dainik Awantika