आदि ग्रंथ के प्रकाश पर्व पर सिख समाज के विशेष धार्मिक आयोजनपहली बार होगा चौपहरा साहिब का पाठ

 उज्जैन ।  उज्जैन सिख समाज द्वारा आदि ग्रंथ (श्री गुरु ग्रंथ साहिब) के प्रकाश पर्व पर 16-17 सितंबर को अखंड पाठ, सामूहिक पाठ, शबद कीर्तन, सम्मान आदि विशेष कार्यक्रम किए जा रहे हैं।
सिख समाज अध्यक्ष जत्थेदार स. सुरेन्द्र सिंह अरोरा ने बताया कि सुख सागर गुरुद्वारा, फ्रीगंज में आयोजित कार्यक्रम में 16 सितंबर शनिवार को आदि ग्रंथ का प्रकाश पर्व श्रद्धा और उल्लास से मनाया जा रहा है। आपने बताया कि आदि ग्रंथ की रचना सिख पंथ के पांचवें गुरु अरजन देव जी ने की थी जिसे दसवें गुरु गोविंद सिंह जी ने श्री गुरु ग्रंथ साहिब के रूप में प्रतिष्ठित किया। इस अवसर पर गुरबाणी कीर्तन, व्याख्यान, लंगर आदि का आयोजन होगा।
श्री अरोरा ने बताया कि 17 सितंबर, रविवार उज्जैन सिख समाज के लिए ऐतिहासिक दिन होगा जब समाज में पहली बार संगत द्वारा प्रात:11 से 3 बजे तक चौपहरा पाठ साहिब का सामूहिक पाठ किया जाएगा। इस विशेष पाठ में जपुजी साहिब का 5 बार, चौपाई साहिब का 2 बार और सुखमनी साहिब का 1 बार पाठ किया जाएगा। पाठ के बाद शबद कीर्तन, अरदास, लंगर आदि का आयोजन होगा।
सुख सागर गुरुद्वारा अध्यक्ष स. चरणजीत सिंह कालरा ने बताया कि प्रकाश पर्व पर ही फ्रीगंज गुरूद्वारे का गुरुद्वारा सुख सागर के रुप में संगतार्पण किया गया था। इस बार आयोजन में वरिष्ठ समाजसेवी श्रीमती कुलदीप कौर सलूजा को ‘माता खीवी समाज गौरव सम्मान’ से सम्मानित किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि स्त्री सत्संग, उज्जैन की संयोजक और मप्र छत्तीसगढ़ केन्द्रीय गुरु सिंघ सभा की महिला प्रकोष्ठ की उपाध्यक्ष श्रीमती सलूजा पिछले 40 वर्षों से गुरुघर की सेवा में समर्पित हैं। गुरुबाणी के प्रचार-प्रसार में उनके विशिष्ट योगदान के लिए उन्हें सिरोपा, स्मृति चिह्न, अभिनंदन पत्र आदि भेंट कर सम्मानित किया जा रहा है।
संरक्षक स. इकबाल सिंघ गांधी, गुरुद्वारा अध्यक्ष स. दिलजीत सिंघ अरोरा, स. पुरुषोत्तम सिंघ चावला, स. आत्मा सिंघ विग खालसा स्कूल अध्यक्ष स. मस्तान सिंघ छाबड़ा, सचकिरत स्किल सेंटर संयोजक श्रीमती जसप्रीत कौर मोंगा संभागीय प्रवक्ता एस. एस नारंग आदि ने कार्यक्रम को सफल बनाने की अपील की है।

You may have missed