अदाणी पब्लिक स्कूल के छात्रों ने नेशनल लेवल कम्पटीशन में जीता प्रथम पुरस्कार…रीसायकल प्रोडेक्ट से तैयार किया गोरिल्ला ड्रोन

मुंद्रा स्थित अदाणी पब्लिक स्कूल (एपीएस) के छात्रों ने पंजाब के लुधियाना के डीसीएम यंग एंटरप्रेन्योर्स स्कूल में आयोजित मेटावर्स 1.0 प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार जीतकर राष्ट्रीय स्तर पर धूम मचा दी है। उन्होंने गोरिल्ला ड्रोन उपकरण बनाकर प्रतियोगिता में प्रथम स्थान हासिल किया। प्रतियोगिता में देश भर से युवा प्रतिभाओं ने अपने प्रोजेक्ट प्रस्तुत किये। 24 प्रतिस्पर्धियों में अदाणी पब्लिक स्कूल के ड्रोन प्रोजेक्ट को सर्वश्रेष्ठ चुना गया।

एपीएस के छात्र साहिल सती, ध्रुवांश मांकड़ और शुभम शामदासानी ने इस डिवाइस को विकसित करने के लिए ना सिर्फ जी तोड़ मेहनत की बल्कि रीसायकल प्रोडेक्ट जैसे पीवीसी पाइप से गोरिल्ला ड्रोन तैयार किया। गोरिल्ला ड्रोन, पिक्चर कैप्चर करने और पेशेवर सेवाओं के लिए उपयोगी हैं। छात्रों का ड्रोन काफी किफायती है जिसे प्रशिक्षक ध्वनि आचार्य के कुशल मार्गदर्शन में स्कूल की अटल टेक्निकल लैब (एटीएल) में तैयार किया गया। विजेताओं को प्रमाणपत्र के साथ माइक्रोसॉफ्ट 365 की सदस्यता, एक वर्ष के लिए माइनक्राफ्ट शिक्षा संस्करण और 7,000 रुपये का नकद पुरस्कार दिया गया।

छात्र अब ह्यूमनॉइड रोबोट प्रोजेक्ट कर रहे है काम
अदाणी पब्लिक स्कूल के प्रवक्ता ने कहा, “राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार जीतकर स्कूल का नाम रोशन करने पर हमें अपने छात्रों पर गर्व है।“ अदाणी पब्लिक स्कूल में, छात्रों को कृत्रिम बुद्धिमत्ता और रोबोटिक्स तकनीक का उपयोग करके मॉडल बनाने के लिए उत्साहित किया जाता है। उन्हें हमेशा प्रतियोगिताओं में भाग लेने और अपने कौशल का प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।”

ड्रोन प्रोजेक्ट की सफलता के बाद, छात्र अब एटीएल में ह्यूमनॉइड रोबोट प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं। यह रोबोट इंसानों की तरह चलने, नाचने और फुटबॉल खेलने के अलावा बात करने में भी सक्षम होगा।

You may have missed