April 19, 2024

इंदौर।  मेरे छोटे बेटे की हत्या कर दी। बड़ा बेटा दहशत में है।घर से निकलने में डर लगता है।आप कुछ करो साहब। हत्यारों के मकान तुड़वा दो। कड़ी सजा दिलवाओ ताकि अपराध करने से डरें। बुधवार सुबह सिविल इंजीनियर अतुल जैन की मां अलका रोते-रोते पुलिस कमिश्नर मकरंद देऊस्कर के पैरों में गिर गई।
द्वारकापुरी निवासी 30 वर्षीय अतुल की आरोपित रोहित इंदूरिया और आयुष ने धार रोड़ पर चाकू मारकर हत्या कर दी थी। बुधवार सुबह विधायक मालिनी गौड़ स्वजन के साथ आयुक्त कार्यालय पहुंची और कहा कि हत्यारों की जमानत नहीं होना चाहिए। उनके मकान तोड़ना चाहिए। कोर्ट से कड़ी सजा मिलें ताकि दूसरा ऐसी हिम्मत न करें।विधायक ने अतुल की मां अलका जैन से मिलवाया तो वह रोते-रोते कमिश्नर के पैरों में गिर गई। अलका ने कहा मेरे बेगुनाह बेटे को मार डाला। उसकी तीन महीने पूर्व ही शादी हुई थी। राहुल जैन (बड़े बेटे)की तरफ इशारा कर बोली वह घर से निकलने में डर रहा है। छोटे भाई की मौत से सदमे में हैं। अतुल के इंजीनियर न बनने तक उसने शादी नहीं की थी। अतुल के पिता महेश जैन,दादी पद्म जैन भी रोने लगे।
अतुल के साले और साली ने कहा बहन सुरभि गहरे सदमे में है। उसकी दशा देखने की हिम्मत नहीं होती। उनके साथ पार्षद शानू शर्मा,गुरजीतसिंह कौर,अजय बड़जात्या भी मौजूद थे। विधायक ने शराब दुकान के पास पुलिस पाइंट बनाने की मांग की। यह भी कहा कि ऐसे स्थानों पर लगातार पेट्रोलिंग होना चाहिए।
रात में गश्त बढ़ाना चाहिए।
आयुक्त पुलिस ने आरोपितों को तत्काल पकड़ लिया।उनके खिलाफ जल्द चालान पेश होगा। कोशिश करेंगे कि केस फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाएंगे।