April 15, 2024

देवास ।  भारतीय किसान संघ जिला कार्यकारिणी ने केन्द्र सरकार द्वारा प्याज निर्यात पर 40 प्रतिशत एक्सपोर्ट ड्यूटी लगाने के विरोध में कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। शुल्क लगाने से प्याज उत्पादक किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। केन्द्र की किसान विरोधी नीति से किसान परेशान हैं। भारतीय किसान संघ ने मांग की है कि जो निर्यात शुल्क बढ़ाया है इसे तुरंत वापस लिया जावे।
भारतीय किसान संघ मालवा प्रांत अध्यक्ष रामप्रसाद सूर्या ने कहा कि प्याज की कीमत कम करने की नियत से केन्द्र सरकार ने प्याज के निर्यात पर 40 प्रतिशत एक्सपोर्ट ड्यूटी लगाई है। जिससे प्याज के भाव मंडियों में गिर रहे हंै, अभी थोक में 10 रुपये से 20 रुपये किलो बिक रहा है इस बार मार्च-अप्रैल में बारिश से कई किसानों की प्याज खराब हो गई थी जिससे किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ा था।किसान पिछले तीन वर्षो से प्याज की फसल में नुकसान उठाता आ रहा है। यदि केंद्र सरकार किसानों का भला चाहती है, तो प्याज निर्यात पर लगाई गई 40 प्रतिशत एक्सपोर्ट ड्यूटी को तुरंत हटाया जावे। अन्यथा आने वाले दिनों में भारतीय किसान संघ सभी सांसद का घेराव करेगा।
फोटो क्रमांक 004