April 15, 2024

बजट में कोई टैक्स नहीं बढ़ाया लेकिन 500 कालोनियों में कचरा और संपत्ति शुल्क पिछले दरवाजे से बढ़ा दिया

इंदौर। नगर निगम में भाजपा शासित परिषद यानि इंदौर की नगर सरकार का एक साल का कार्यकाल शनिवार को पूरा हो गया है। महापौर पुष्यमित्र भार्गव ने 5 अगस्त 2022 को शपथ ली थी। तीन महीने का एजेंडा जारी किया था। कई काम पूरे हो चुके तो कुछ काम बाकी रह गए हैं। वहीं इंटर्नशिप विद मेयर, वार्ड प्लान जैसे कई नवाचार भी हुए। उनकी अध्यक्षता में पेश बजट में कोई टैक्स नहीं बढ़ा, लेकिन कॉलोनियों के रेट जोन बदलने से 500 कॉलोनियों में कचरा, संपत्ति शुल्क आदि पिछले दरवाजे से बढ़ा दिए गए हैं। राजबाड़ा, छत्री, गोपाल मंदिर जीर्णोद्धार होने के साथ ही योग मित्र अभियान भी शुरू किया है। पूरे 1 साल के कार्यकाल को देखें तो कहीं फूल हैं तो कहीं कांटे भी।

उपलब्धि- 15 नए स्कूल भवन तैयार हो रहे, 11 मेजर रोड का काम चल रहा
1. स्वास्थ्य – 17 संजीवनी क्लिनिक का निर्माण पूरा। 2. नक्शा मंजूरी – 72 घंटे में हजार वर्गफीट के प्लॉट पर जी-प्लस वन का नक्शा मंजूर होने लगा। 3. शिक्षा – 15 स्कूल भवन बन रहे, 124 में नए क्लास रूम। 4. सड़कें – 11 मेजर सड़कें, 6 फुट ओवर ब्रिज बन रहे। 5. पर्यावरण – वाटर रीचार्जिंग सिस्टम लगे, 89 बगीचों में सिविल काम करवाया, टॉय ट्रेन शुरू, 90 अहिल्या वन तैयार। 6. एलईडी लाइट्स – 76000 एलईडी लाइट्स का काम पूरा। 7. मृत्यु प्रमाण पत्र दिसंबर से अब तक 24 घंटे में लोगों के घराें तक भिजवा रहे, 120 कॉलोनियां वैध।

चुनौती- हाथीपाला व तीन इमली पुल अधूरे, ओपन जिम नहीं बना

1. ड्रेनेज – 120 काम पूरे करने के दावे,शहर खुदाई से परेशान। 2. चार्जिंग स्टेशन – 8 जगह काम शुरू हुआ, लेकिन अधूरा। 3. जल योजना – 17 जगह पेयजल लाइन का काम पूरा हुआ, अमृत-1 का काम अभी भी अधूरा। 4. पुल – हाथीपाला पुल व तीन इमली पुल का काम अधूरा। 5. हॉकर्स जोन – 15 नए हॉकर्स जोन बनना थे। 4-5 जगह ही बने। 6. योग केंद्र – हर वार्ड में ओपन जिम बनना थे, लेकिन अभी तक एक भी बनकर तैयार नहीं हुआ। 7. ग्रीन बॉण्ड – ग्रीन बॉण्ड जारी कर दिया, लेकिन जलूद में अब तक प्लांट स्थापित करने के लिए कोई कंपनी फाइनल नहीं हो पाई।

इनका कहना है-

“तीन महीने में जो काम पूरे करने के वादे हमने किए थे, वे सभी तय समय में पूरे किए हैं। यह एक साल आने वाले 5 सालों की प्लानिंग का साल रहा। एक साल में 286 किमी पानी की पाइपलाइन डाली है। 6 मजदूर चौक बना दिए गए। 24 घंटे ऑनलाइन नक्शे देने का आदेश जारी किया था, वह मिल रहा है।”
– पुष्यमित्र भार्गव, महापौर

एक भी काम ऐसा नहीं जो शुरू कर पूरा किया

“एक साल में ऐसा एक भी नया काम नहीं है जो महापौर ने शुरू करवाया हो और उसे पूरा किया हो।”
– चिंटू चौकसे, नेता