रामघाट पहुंची महिला ने क्षिप्रा में लगाई छलांग

उज्जैन। रामघाट पर गुरूवार दोपहर आई महिला ने अचानक क्षिप्रा में छलांग लगा दी। लोगों ने उसे डूबते देख शोर मचाया। होमगार्ड सैनिक और तैराक दल के सदस्य पहुंचे और डूबती महिला को बचाकर बाहर निकाल लिया। परिजन खबर मिलते ही महाकाल थाने पहुंच गये थे।
रामघाट पर बनी चौकी पर तैनात होमगार्ड सैनिक जगदीश सोलंकी ने बताया कि सिद्ध आश्रम के क्षिप्रा नदी में महिला द्वारा छलांग लगाने की जानकारी मिलते ही सैनिक भैरूलाल सोलंकी, शिवकन्या बैरागी और मां क्षिप्रा तैराक दल के नाना कहार के साथ पहुंचे। महिला का बचाकर बाहर निकाला गया। पूछताछ करने पर उसने अपना नाम प्रियंका पति गोलू नागर 40 वर्ष निवासी जयंत परिसर नानाखेड़ा बताया, उसका कहना था कि अभी बचा लिया, बाद में ब्रिज से कूद जाऊंगी। वह अपनी जान देने पर आमदा थी। उसे बमुश्किल महाकाल थाने पहुंचाया गया। एसआई जयंत डामोर ने बताया कि महिला के परिजनों को सूचना दी गई, परिजन थाने आ गये थे। महिला को उनके साथ घर रवाना किया गया।

You may have missed