125 से 135 किमी घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही है, तूफान की चपेट में गुजरात के 10-12 जिले

चक्रवात बिपरजॉय गुजरात के जखौ पोर्ट से टकराना शुरू हो गया है। इससे तटीय इलाकों में 125 से 135 किमी घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। तूफान की चपेट में गुजरात के 10-12 जिले हैं, लेकिन असर कई राज्यों में होगा।हालांकि तूफान के टकराने से पहले ही गुजरात में जगह-जगह बर्बादी का दौर शुरू हो गया। सौराष्ट्र के तटीय इलाकों में बड़े-बड़े पेड़ व बिजली के सैकड़ों पोल तक उखड़ गए हैं। सबसे ज्यादा प्रभावित द्वारका जिले के तो 38 गांवों में पेड़ों के गिरने की खबर है।सूरत समेत उत्तर गुजरात के कई जिलों में 70 से 80 किलोमीटर प्रति घंटे से ज्यादा की स्पीड से हवाएं चल रही हैं। सैकड़ों कच्चे मकान ध्वस्त हो चुके हैं। कई इलाकों में समुद्र का पानी घुस गया है। जिन इलाकों में तूफान का खतरा सबसे ज्यादा है, वहां चप्पे-चप्पे पर सेना और एनडीआरएफ के जवान तैनात हैं। सौराष्ट्र के कई जिलों में गुरुवार दोपहर 2 बजे तक रहे ऑरेंज अलर्ट को अब रेड अलर्ट में बदल दिया गया है। एहतियात के तौर पर लगभग एक लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट किया गया है। 76 से ज्यादा ट्रेन रद्द की गई हैं। लोगों को घरों से बाहर ना निकलने की सलाह दी गई है। राज्य और केंद्र सरकार हालात पर नजर बनाए हुए हैं।

You may have missed