April 19, 2024

उज्जैन। चायना डोर ने रविवार को एक बार फिर अपना प्रहार किया। अब पुजारी की उंगलियां कटना सामने आया है। पिछले 12 दिन में जानलेवा साबित हो चुकी डोर ने गला, नाक, होट काटकर सात लोगों को घायल किया है। पिछले वर्ष छात्रा की जान गई थी।
मकर संक्रांति के दूसरे दिन प्रतिबंधित चायना डोर ने चिंतामण ब्रिज पर चिंतामण मंदिर के पुजारी ईश्वर पर प्रहार किया। बाइक से मंदिर जा रहे पुजारी के सामने चायना डोर आ गई। उन्होने चलती बाइक पर बचने का प्रयास किया और हाथ आगे कर दिया। डोर ने उनकी उंगलियां लहूलुहान कर दी। घटना देख ब्रिज से गुजरने वाले रूक गये। पुजारी को उपचार के लिये अस्पताल लाया गया। बताया जा रहा है कि उंगली कटने पर डॉक्टरों ने चार टांके लगाए है। पुजारी उपचार के बाद घर लौट गये थे। गौरतबल हो कि 4 जनवरी को निजातपुरा क्षेत्र में 6 वर्षीय बालिका का गला कटा था। 5 जनवरी को हरिफाटक ब्रिज पर स्क्रैप व्यवसाई का गला लहूलुहान हुआ था। 8 जनवरी को इंदौररोड पर होमगार्ड सैनिक का गला कटने पर 10 टांके लगाए थे। 13 जनवरी को ऋषिनगर में भाजपा नेता का गला और होट कट गया था, वहीं सेठीनगर में हेयर सेलून की दुकान चलाने वाले का भी गला कटा था।। 14 जनवरी को पाटपाला में तराना के रहने वाले युवक का गला कटना सामने आया था।