April 19, 2024

 

इंदौर। 17वें प्रवासी भारतीय दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित तीन दिवसीय प्रवासी सम्मेलन की संगीतमय शुरुआत हुई। अब कार्यक्रम स्थल ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर के पास ही नव निर्मित ग्लोबल पार्क में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और 65 देशों से आए प्रतिनिधि आज दोपहर 2.30 बजे पौधारोपण करेंगे।
शहर के प्रमुख चौराहों पर ढोल और संगीत से एनआरआई का वेलकम किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने किया सूरीनाम के राष्ट्रपति संतोखी का स्वागत

प्रवासी भारतीय सम्मेलन में शामिल होने के लिए सूरीनाम गणराज्य के राष्ट्रपति चंद्रिका प्रसाद संतोखी शनिवार रात इंदौर पहुंचे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राष्ट्रपति चंद्रिका प्रसाद संतोखी का पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत किया। इस अवसर पर इंदौर के प्रभारी तथा गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा भी मौजूद थे। सूरीनाम दक्षिण अमेरिका महाद्वीप का एक छोटा सा देश है।

इंदौर की प्रसिद्ध 56 दुकान पहुंचे विदेश मंत्री

भारत के विदेशमंत्री एस जयशंकर प्रसाद शनिवार शाम को इंदौर आए। वे रात को 56 दुकान इलाके में पहुंचे। यहां उन्होंने पावभाजी, हॉट डॉग और खोपरा पेटीज खाए।

मुख्यमंत्री ने किए खजराना के दर्शन

शनिवार रात आठ बजे इंदौर पहुंचने के बाद मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान सपत्नी खजराना गणेश के दर्शन करने पहुंचे। यहां उन्होंने तीन दिवसीय प्रवासी सम्मेलन और इसके बाद होने वाले ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के सफल आयोजन का आशीर्वाद मांगा।

 

____

आज पहले दिन स्टार्टअप सक्सेस स्टोरी पर चर्चा

इंदौर। रविवार को प्रवासी सम्मेलन के पहले दिन फार्मा और प्रदेश के स्टार्टअप की सक्सेस स्टोरी पर चर्चा होगी। इसमें प्रदेश में निवेश के अवसरों को बढ़ाने के मौके भी तलाशे जाएंगे।

आज का पहला दिन : युवा प्रवासी भारतीय दिवस के नाम

सम्मेलन के पहले दिन युवा प्रवासी भारतीय दिवस के कार्यक्रम होंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का संबोधन, सचिव विदेश मंत्रालय डॉ. औसाफ सईद का स्वागत भाषण, केन्द्रीय युवा मामले एवं खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर का उद्बोधन, गेस्ट ऑफ ऑनर ज़ेनेटा मैस्करेनहास संसद सदस्य ऑस्ट्रेलिया का विशेष संबोधन होगा। केन्द्रीय विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर संबोधित करेंगे।
पहले दिन केन्द्रीय युवा मामले एवं खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर की अध्यक्षता में प्लेनरी सेशन में नवाचारों और नई प्रौद्योगिकी में प्रवासी युवाओं की भूमिका पर चर्चा होगी। इसके बाद प्रदेश की औद्योगिक क्षमताओं से संबंधित 3 सेक्टर्स, टेक्सटाइल एंड गारमेंट्स : वीविंग द ग्रोथ स्टोरी ऑफ एम.पी., सूचना प्रौद्योगिकी और संबद्ध सेक्टर में मध्यप्रदेश में होने वाले परिवर्तनों की कहानियां, हेल्थ केयर एंड फार्मास्युटिकल्स इन्वेस्टमेंट : रिशेपिंग द ग्लोबल हेल्थ वेल्यू चेन पर सत्र होंगे।
इसके बाद 3 महत्वपूर्ण सत्र में इन्वेस्ट इन मध्यप्रदेश- द फूड बास्केट, स्टार्टअप ईको सिस्टम- अनलीशिंग द आंत्रेप्रेरोन्योरियल स्ट्रेंथ ऑफ मध्यप्रदेश एवं टूरिज्म अपॉर्चुनिटी इन द हॉर्ट ऑफ इन्क्रेडिबल इंडिया, विषय पर महत्वपूर्ण चर्चा होंगी। शाम को सांस्कृतिक सम्मेलन होंगे।