April 19, 2024

करणी सेना प्रमुख की चेतावनी- वक्त पड़ा तो चुनाव में भी उतरेंगे, जो नेता बाधा बनेगा उसे जीतने नहीं देंगे

भोपाल। राजधानी भोपाल में 8 जनवरी को करणी सेना का बड़ा आंदोलन होने वाला है । यह आंदोलन आर्थिक आधार पर आरक्षण एट्रोसिटी एक्ट में बदलाव, स्वामीनाथन कमेटी के आधार पर फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य, गाय को राष्ट्रीय माता का दर्जा दिलाने जैसे 22 सूत्री मांगों को लेकर किया जाएगा।
आंदोलन भोपाल के जंबूरी मैदान में 8 जनवरी को होना है। इस बीच ग्राउंड को लोहे की चादरों से कवर किया जा रहा है जिस पर करणी सेना के प्रमुख जीवन सिंह शेरपुर ने आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा कि लोहे की दीवार भी हमें नहीं रोक सकेगी। हर हाल में आंदोलन होगा। वही, भोपाल में करणी सेना के आंदोलन के समर्थन में नेता प्रतिपक्ष डॉ.गोविंद सिंह भी आगे आए हैं। उन्होंने कहा कि राजपूतों के सम्मेलन को रोकना उनके अपमान की तरह है,यदि रोका तो वे सरकार को चुनाव में जवाब देंगे।

राजनीति में आने की आहट

करणी सेना के प्रमुख जीवन सिंह शेरपुर ने जानकारी देते हुए बताया कि वे 7 जनवरी से ही भूख हड़ताल करेंगे। इसके लिए पांच-पांच लोगों की टीम बनाई जा रही है। यदि हमारी बात नहीं मानी गई और हमें प्रताड़ित किया गया तो करणी सेना चुनाव में उतरने से भी नहीं डरेगी। जितने भी नेता हमारे आंदोलन में बाधा डालने की कोशिश करेंगे, हम उन्हें विधानसभा जीतने नहीं देंगे। विधानसभा चुनावों में करणी सैनिक सभी 230 सीटों पर उतरेंगे और चुनाव लड़ेंगे।