April 16, 2024

उज्जैन। श्रावण मास में भगवान महाकाल के पट रात 2.30 बजे ही खुल जाएंगे। भगवान की रोज होने वाली भस्म आरती भी जल्दी होगी। दरअसल श्रावण मास में अधिक से अधिक श्रद्धालुओं को दर्शन कराने के उद्देश्य से मंदिर में परंपरा अनुसार भगवान की दिनचर्या में बदलाव किया जाता है। वर्तमान में भस्म आरती तड़के 4 बजे से 6 बजे तक की जा रही है। लेकिन श्रावण मास में रात 2.30 बजे प्रति सोमवार को पट खोल दिए जाएंगे तथा प्रतिदिन 3 बजे से पट खुलेंगे और भस्म आरती जल्दी की जाएगी यह दिनचर्या पूरे श्रावण और भादो मास में शाही सवारी निकलने तक जारी रहेगी। महाकाल मंदिर के पुजारी एवं मंदिर प्रबंध समिति के सदस्य प्रदीप गुरु ने बताया कि श्रावण मास में परंपरा अनुसार महाकाल के पट प्रति सोमवार को रात 2.30 बजे व प्रतिदिन 3 से खोले जाने की व्यवस्था रहती है। इसका उद्देश्य है कि अधिक समय तक मंदिर खुला रहे और बाबा महाकाल के ज्यादा से ज्यादा श्रद्धालु श्रावण मास में दर्शन लाभ ले सके। जल्दी पट खुलने से करीब 20 घंटे भगवान महाकाल भक्तों को दर्शन देकर अभिभूत करेंगे। इस बार 14 जुलाई से श्रावण मास लग रहा है।