चोरी की वारदात करने के बाद गुजरात भाग निकले थे पड़ोसी

उज्जैन। पड़ोसी के सूने मकान का ताला तोड़कर हजारों की नगदी और सोने के आभूषण चोरी करने के बाद 2 युवक गुजरात भाग निकले थे। शुक्रवार को मौसर में शामिल होने आये तो पुलिस ने शंका के आधार पर हिरासत में लिया। पूछताछ में दोनों ने वारदात कबूल कर ली। माकड़ोन के ग्राम मेरगढ़ में रहने वाले रामनारायण पिता रतनलाल मोगिया के मकान का 4 जनवरी को चोरी होना सामने आया था। पुलिस ने पड़ोस में रहने वाले लखन मोगिया और जुझारसिंह मोगिया को हिरासत में लेकर मामले का खुलास करते हुए 45 हजार रुपये बरामद कर लिये है। दोनों को न्यायालय में पेश कर एक दिन की रिमांड पर लिया गया है। दोनों ने रामनारायण का मकान सूना पाकर चोरी को अंजाम दिया और गुजरात भाग निकले थे। उन्हें अंदेशा नहीं था कि पुलिस को उनके बारे में जानकारी लग पायेगी, लेकिन वारदात के बाद से दोनों लापता थे, जिसके चलते उन पर शंका बनी हुई थी। पुलिस ने उनके परिजनों को इस बात का अहसास भी नहीं होने दिया कि पुलिस को उनकी तलाश है। शुक्रवार को चोरी की शंका में हुई हत्या और गड्ढा खोदकर गाढ़े गये वृद्ध का गांव में मौसर रखा गया था। दोनों उसी में शामिल होने के लिये आये थे, उसी दौरान पुलिस ने हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने चोरी करना कबूल लिया।

You may have missed