पब-नाइट कल्चर इंदौर की संस्कृति पर धब्बा, ये बंद होना चाहिए : संस्कृति मंत्री ऊषा ठाकुर ने कहा

ब्रह्मास्त्र इंदौर। संस्कृति मंत्री ऊषा ठाकुर ने इंदौर में पब और नाइट कल्चर को इंदौर की संस्कृति पर धब्बा बताया है। उन्होंने कहा कि इस पर कार्रवाई होना चाहिए। इन्हें बंद भी कराया जाना चाहिए। मंत्री कल आईडीए के नवनियुक्त अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा के पदभार ग्रहण कार्यक्रम के बाद मीडिया से चर्चा कर रही थीं। मंत्री ने कहा कि जो संस्कारहीन बच्चे और गैरजिम्मेदार लोग इन जगहों पर जाते हैं, उनके खिलाफ भी कार्रवाई होना चाहिए। खास है कि इंदौर में करीब 20 से 25 बड़े होटल हैं। सभी होटल संचालकों ने जश्न की बुकिंग न करने की बात कही है। इंदौर के बायपास वाले इलाकों में कुछ गार्डन और क्लबों में नए साल का जश्न हो सकता है, लेकिन गाइडलाइन और बुकिंग न मिलने की वजह से अब तक तैयारी नहीं हुई है। इंदौर के विजयनगर, भंवरकुआं, कनाड़िया जैसे इलाकों में कुछ बड़े होटल गार्डन और क्लब हैं। होटल-गार्डन संचालकों ने बुकिंग होने से मना किया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि वीकेंड और संडे यहां पर वैसे ही जश्न का माहौल देर रात सड़कों पर दिखाई देता है।
नए साल के जश्न में इंदौर में नाइट कर्फ्यू होने के कारण कुछ होटलों और गार्डन में जश्न तो मनाएंगे परंतु वे रात 10 बजे तक खत्म कर दिए जाएंगे। ज्यादातर लोग दिन में ही जश्न मनाकर थर्टी फर्स्ट बनाने पर भी विचार कर रहे हैं।

You may have missed