फरवरी 2022 में तैयार होगा महाकाल  पथ, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आ सकते हैं

 

– मुख्यमंत्री शिवराज ने काशी के कार्यक्रम में दिया उज्जैन आाने का आमंत्रण

दैनिक अवंतिका उज्जैन। फरवरी 2022 में महाकाल मंदिर क्षेत्र में करोड़ों रुपए की लागत से बन रहा महाकाल पथ बनकर तैयार हो जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका उद्घाटन करने आ सकते हैं।

मप्र के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने खुद पीएम मोदी को काशी विश्वनाथ मंदिर में आयोजित सौंदर्यीकरण समारोह के दौरान उन्हें धार्मिक नगरी उज्जैन में आने का निमंत्रण दिया है। उज्जैन के जनप्रतिनिधियों से लेकर जिला प्रशासन के अधिकारियों में भी इस बात को लेकर खासी चर्चा है कि नए साल में आगामी 15 फरवरी तक महाकाल पथ पूरी तरह से बनकर तैयार हो जाएगा। इसके शुभारंभ समारोह को लेकर खुद मुख्यमंत्री शिवराज अभी से बड़े पैमाने पर तैयारियों में जुटे है।

250 करोड़ के कार्य नए साल में पूरे, फरवरी में उद्घाटन 

महाकाल मंदिर के विस्तारीकरण एवं सौंदर्यीकरण को लेकर 500 करोड़ के प्रोजेक्ट में 250 करोड़ के कार्य लगभग पूरे होने को आए है। नए साल में इनका कार्य पूरा हो जाएगा। 15 फरवरी तक इसकी डेडलाइन बताई जा रही है। इसे लेकर कलेक्टर आशीष सिंह भी ठेकेदारों को पूर्व में कई बार निर्देश दे चुके हैं। इन कार्यों में वाहन पार्किंग, महाकाल पथ, विजिटर्स फेसिलिटी सेंटर -2 शामिल है।

रूद्रसागर से जलकुंभी हटाकर साफ पानी भरेंगे, सीवरेज नहीं

रूद्र सागर में बन रहे कॉरिडोर, मंदिर के निकट बन रहे फेसिलिटी सेंटर एवं परिक्षेत्र के सौंदर्यीकरण के सभी कार्य 15 फरवरी के पहले पूर्ण करने की पूरी तैयारी है। रूद्र सागर से जलकुंभी को भी हटाकर इसमें साफ पानी भरा जाएगा। इसके पहले सीवरेज का पानी नहीं मिले इसे लेकर प्रोजेक्ट पूरा कर लेंगे।

हरिफाटक की जमीन पर 600 वाहनों की पार्किंग बनाएंगे

कलेक्टर आशीष सिंह ने यह भी बताया कि हाल ही में अतिक्रमण हटा कर खाली कराई गई हरि फाटक ब्रिज के पास की जमीन पर 600 गाड़ियों की पार्किंग स्थल बनकर तैयार होगा। इसके साथ ही इसमें सीएसपी, नगर निगम ऑफिस और अन्य कार्यालय भी होंगे। कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया कि विस्तारीकरण के बाद मंदिर परिक्षेत्र 2.5 हेक्टेयर से बढ़ाकर 22 हेक्टेयर का हो जाएगा। महाकाल मंदिर अपने आप में देश के भव्य मंदिरों में से एक होगा। –

 

You may have missed