6 दिसंबर से महाकाल मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश शुरू, 1500 की टिकट लेना होगी

– श्रद्धालु खुश, 2 वर्ष से अधिक समय से बंद है प्रवेश

– केवल आरती-पूजा के लिए पुजारियों को थी अनुमति

दैनिक अवंतिका उज्जैन। ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर के गर्भगृह में 6 दिसंबर से आम प्रवेश शुरू हो जाएगा। श्रद्धालु अंदर जाकर भगवान महाकाल के दर्शन कर सकेंगे। यह निर्णय कलेक्टर आशीष सिंह की अध्यक्षता में हुई मंदिर प्रबंध समिति की बैठक में लिया गया।

हालांकि गर्भगृह में प्रवेश के लिए श्रद्धालुओं को 1500 रुपए की टिकट लेना होगी। एक टिकट पर 2 लोगों को प्रवेश मिलेगा। अभी कोरोना के चलते दो वर्ष से अधिक समय से मंदिर के गर्भगृह में आम लोगों का प्रवेश बंद था। केवल मंदिर के पंडे-पुजारियों को ही आरती-पूजा के लिए अंदर जाने की अनुमति दी गई थी। महाकाल के गर्भगृह में दर्शन चालू होने की खबर से देशभर के श्रद्धालुओं में खुशी छा गई है। कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया कि  राज्य शासन द्वारा 17 नवम्बर से कोविड -19 महामारी के समय जारी समस्त प्रतिबंध हटा लिये गये हैं। इस तारतम्य में समिति की बैठक में आगामी 6 दिसम्बर से श्रद्धालुओं को गर्भगृह में कोविड महामारी में लगाये गये प्रतिबंधों के पूर्व जिस तरह की प्रवेश व्यवस्था थी, उसी के अनुरूप प्रवेश देने का निर्णय लिया गया है। बैठक में एसपी सत्येन्द्र कुमार शुक्ल, एडीएम संतोष टैगोर, मंदिर प्रशासक गणेश कुमार धाकड़, समिति सदस्य आशीष पुजारी, विजयशंकर शर्मा एवं पुजारी प्रदीप गुरु आदि प्रमुख रूप से मौजूद थे।

You may have missed