डॉक्टर से लेकर दूध वाले तक पूछेंगे दूसरा डोज लगवाया या नहीं..?

इंदौर में कोरोना टीका के दोनों डोज लगाने का महा अभियान, जन जागरूकता पर पूरा ध्यान

ब्रह्मास्त्र इंदौर। शहर में टीकाकरण महा-अभियान के तहत कोरोना के टीके के दोनों डोज लगाने के अभियान को जनप्रतिनिधियों, सामाजिक संगठनों, व्यावसायिक संगठनों, औद्योगिक संगठनों, रहवासी संघों आदि का भरपूर सहयोग मिल रहा है। इन संगठनों के पदाधिकारी तथा जनप्रतिनिधि आगे आकर अभियान को सफल बनाने में जुट गये है। कलेक्टर मनीष सिंह की अध्यक्षता में इन संगठनों के पदाधिकारियों तथा जनप्रतिनिधियों की बैठक आयोजित की गई। बैठक में उपस्थित सभी ने एकमत हो सहमति प्रदान करते हुये कोरोना टीका के दोनो डोज लगाने के अभियान को शत-प्रतिशत सफल बनाने के लिये अपना सम्पूर्ण योगदान देने का निश्चय किया।
बैठक में अपर कलेक्टर अभय बेड़ेकर, सहायता संस्था के अनिल भंडारी, नगर निगम के पूर्व नेता प्रतिपक्ष श्रीमती फोजिया शेख अलीम, पूर्व सभापति अजय सिंह नरूका, श्री प्रताप करोसिया, संतोष सिंह गौर, अश्विन शुक्ल सहित अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद थे। बैठक में मध्य प्रदेश औद्योगिक संगठन, होटल एसोसिएशन, दूध विक्रेता संघ, अनाज व्यापारी संघ, कृषि उपज मंडी ऐसोसिएशन, ट्रांसपोर्ट ऐसोसिएशन आदि संगठनों, रहवासी संघों, विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि मौजूद थे।
बैठक में कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि जीवन रक्षा के लिए कोरोना टीका के दोनों डोज अत्यंत जरूरी है। टीके के दोनो डोज नहीं लगवा कर व्यक्ति खुद के साथ ही दूसरों को भी खतरा पैदा करेंगे। इसके लिए जरूरी है कि सभी नागरिकों को टीके के दोनों डोज लगाए जाएं। प्रशासन द्वारा व्यापक स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने बैठक में उपस्थित सभी संगठनों के पदाधिकारियों से कहा कि वे जनहित के इस कार्य में उत्साहपूर्वक भागीदारी करें और समाज को सुरक्षा नया चक्र प्रदान करें। उन्होंने कहा कि कचरा गाड़ियों के माध्यम से जागृति लायी जायेंगी। आमजन की सुविधा के अनुसार पर्याप्त संख्या में टीकाकरण केन्द्र बनाये जा रहे है। शहर के बस्तियों में विशेष ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि बस्तियों में शत-प्रतिशत लक्ष्य पूरा करने के लिये जनप्रतिनिधियों की अहम भूमिका है।
बैठक में मध्य प्रदेश औद्योगिक संगठन के अध्यक्ष प्रमोद डाफरिया ने बताया कि उनके संगठन द्वारा औद्योगिक इकाइयों के सभी कामगारों एवं उनके परिजनों को दूसरा डोज लगाने की विशेष व्यवस्था की जाएगी। मोबाइल वैन के माध्यम से भी टीकाकरण किया जाएगा। उनके संगठन ने 80 हजार कामगारों और उनके परिजनों को दूसरा डोज लगाने का लक्ष्य रखा है।
होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष सुमित सुरी ने बताया कि दूसरा डोज लगवाने वाले ग्राहकों को विशेष डिस्काउंट दिया जाएगा। उनके यहां आने वाले सभी ग्राहकों को दूसरा डोज लगाने के लिए प्रेरित किया जाएगा। यह प्रयास किए जाएंगे की सभी नागरिक 30 नवंबर तक दूसरा डोज लगवा ले। उनके एसोसिएशन द्वारा यह तय किया जा रहा है कि 30 नवंबर के बाद दूसरा डोज नहीं लगवाने वाले लोगों को रेस्टोरेंट और होटल में प्रवेश नहीं दिया जाएगा।
दूध विक्रेता संघ के अध्यक्ष भरत मथुरावाला ने कहा कि दूध विक्रेता घर-घर जाते हैं। जन जागृति के लिए इनकी अहम भूमिका है। दूध विक्रेता फ्रंटलाइन वर्कर है। इनका आम नागरिकों से सीधा संपर्क रहता है, इसलिए जरूरी है कि जहां एक और नागरिक अपना टीकाकरण करवाएं, वहीं दूसरी और सभी दूध विक्रेता भी दोनो डोज से टीकाकृत हो।

You may have missed