उज्जैन का बहुचर्चित बलात्कार व अपहरण कांड- वायरल हुए 6 ऑडियो से भारी बवाल कइयों के बिगड़ गए गेम

भाजपा नेता शंकर अहिरवार पर गंभीर आरोप- 25 लाख नहीं मिले तो झूठे केस में फंसाने का रचा षडयंत्र, पहले आरोपी के पक्ष में महिला के चरित्र पर उठा रहे थे सवाल, अब आरोपी की गिरफ्तारी की मांग

उज्जैन के दो- तीन पत्रकारों को 20- 20 हजार देकर चुप कराने का भी जिक्र

ब्रह्मास्त्र उज्जैन। शहर के बहुचर्चित बलात्कार व अपहरण कांड ने नया मोड़ ले लिया है। वायरल हुए 6 ऑडियो से भारी बवाल मच गया है। कुछ दबी जुबां से सफाई देते नजर आ रहे हैं, तो कुछ दुबक गए हैं। पोहा फैक्ट्री के मालिक भरत बिंदल उर्फ बंटी के परिवार ने भाजपा नेता शंकरलाल अहिरवार पर आरोप लगाया है कि अभी कुछ दिन पहले तक जिस महिला के चरित्र पर सवाल उठा रहे थे, वहीं जब 25 लाख रुपये नहीं मिले तो उसी महिला के पक्ष में प्रेस कांफ्रेंस लेकर आरोपी की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। रुपयों के लेन-देन और सेटिंग से संबंधित मामले के 6 ऑडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहे हैं। बहरहाल केस को रफा-दफा करने के मामले में उक्त भाजपा नेता सहित कई लोगों के नाम सामने आ रहे हैं। वायरल हो रहे ऑडियो में अहिरवार कुछ पत्रकारों को भी गाली से नवाजते हुए उन्हें 20-20 हजार देकर चुपचाप बैठाने की बात कर रहे हैं। वे कहते हैं कि दो तीन पत्रकारों को बीस- बीस हजार देना पड़ेंगे, नहीं तो क्या होता है कि समझौता होने के बाद छापेंगे साले। कहीं- कहीं पत्रकारों , नेता व पुलिसवालों के नाम का भी जिक्र है। मामले में भाजपा नेता शंकर अहिरवार सभी से सेटिंग का जिक्र करते हुए महिला टीआई रेखा वर्मा के बारे में भी कहते हैं कि रेखा को जो भी लगेगा देकर सब खत्म करवा देंगे।

भाजपा नेता शंकर अहिरवार पर बिंदल परिवार ने आरोप लगाया कि वह हमें गुमराह करता रहा और लगातार 25 लाख रुपए में लेनदेन कर पीड़ित महिला से समझौता करने का दबाव बनाता रहा। जब हम उसके झांसे में नहीं आये तो उसने रविवार को प्रेस कांफ्रेंस कर पीड़ित महिला के पक्ष में बोलना शुरू कर दिया और बलात्कार व अपहरण के मामले में आरोपी बनाए गए बंटी बिंदल को जल्द गिरफ्तार करने की मांग करने लगा। अहिरवार अपने राजनैतिक कद का फायदा उठाकर पहले हमारे परिवार से बात कर पीड़िता से समझौते के बदले रुपयों की मांग करता रहा।

6 ऑडियो वायरल

सूत्रों की माने तो सोशल मीडिया पर परिवारजनों ने भाजपा नेता और अजा मोर्चे के कार्यकारी समिति सदस्य शंकरलाल अहिरवार से बातचीत के वायरल हुए 6 ऑडियो के जरिए जो हकीकत बताई, उससे यह बात सामने आ रही है कि किस तरह एक उद्योगपति को गिरोहबध्द होकर इस मामले में लूटा जा रहा है।

महिला को एएसआई से चमकवा देंगे

वायरल आडियों में शंकरलाल अहिरवार ने धमकाया कि एट्रोसिटी एक्ट लगने के बाद दिक्कत आ जाएगी। ले देकर मामले को खत्म करें। जिंदगी रही तो बहुत पैसा कमाएंगे। महिला थाने में जुबेर मैडम है एएसआई से चमकवा देंगे। महिला को पकड़ के मार भी देगी। कह देंगे पैसे ले और निकल यहां से। मेरे पास कई काम हैं, लेकिन मैं उन सब को छोड़कर इसमें समय दे रहा हूं।

भाजपा नेताओं का भी जिक्र

ऑडियो में शंकरलाल अहिरवार ने राजपालसिंह , कैलाश जी, मिश्रा जी सहित मीडियाकर्मियों तक का जिक्र किया है। एक ऑडियो में अहिरवार कह रहे हैं कि मुझे तो लगता है राजपाल ने ही सारा गेम बिगाड़ दिया। दो तीन पत्रकार हैं उन्हें 20-20 हजार रुपए देने होंगे। आप तो एक फिगर बता दो कितने कर सकते हैं, दिनेश वगैरह को कुछ नहीं देना, क्राईम ब्रांच से कार्रवाई करवा देंगे। ऑडियो में पुलिस के साथ सेटिंग के अलावा उसके चरित्र पर भी सवाल उठाए गए हैं।

लड़की और पत्रकार की जवाबदारी ली

परिवार को भरोसा दिलाते हुए शंकरलाल अहिरवार आडियो में यह कहते सुनाई दे रहे हैं कि महिला से शपथ पत्र भरवाते हैं। पत्रकार वगैरह को उठवाकर बुलवा लूंगा। लड़की और पत्रकार की जवाबदारी मेरी। मैं वीडियो कॉलिंग करके बता दूंगा के ये सब मेरे साथ हैं। जो भी देना है बात कर लेंगे।

महिला संदिग्ध लग रही है

ऑडियो में शंकरलाल अहिरवार कह रहे हैं- मैं उसे भाजपा कार्यालय पर बुला लूंगा। तरीके से बात कर लूंगा। अपन इसलिए मदद कर रहे हैं क्योंकि एक अच्छा इंसान फंस रहा है। महिला संदिग्ध लग रही है, गलत बोल रही है।

कुछ यूँ है मामला

थाना नागझिरी अंतर्गत उद्योगपुरी में बंटी बिंदल ने पोहा फैक्ट्री में काम करने वाले मजदूर को फैक्ट्री में ही एक कमरा दे रखा था। पति की मौत के बाद महिला इस घर में रहने लगी। कई बार कमरा खाली करने को कहा गया। इसे लेकर महिला के साथ बंटी का विवाद भी हुआ। इस बीच 5 सितंबर को रात 11 बजे के लगभग महिला ने पुलिस को कॉल करके बंटी बिंदल की पोहा फैक्ट्री में बुलाया और अपने अपहरण की जानकरी दी। पुलिस को महिला बंधी हुई हालत में फैक्ट्री के अंदर मिली थी। चर्चा है कि अगले ही दिन 35 हजार में महिला और फैक्ट्री संचालक के बीच समझौता हो गया। इसके बाद भी महिला ने बंटी बिंदल के खिलाफ अपहरण और बलात्कार की रिपोर्ट दर्ज कराई और कोर्ट में धारा 164 में बयान दर्ज करा दिए।
ऑडियो नहीं सुना मीडिया से पता चला- महिला टीआई

पोहा फैक्ट्री मालिक पर लगे दुष्कर्म के आरोप के बाद सोमवार को सामने आए भाजपा नेता के ऑडियो पर मामले की जांच कर रही महिला थाना प्रभारी रेखा वर्मा का कहना है कि उन्हें मीडिया से ही मामले की जानकारी मिली है। ऑडियो सुने नहीं है वह इंदौर पेशी पर गई हुई थी। आज भी मामलों को लेकर कोर्ट में पेशी है। नेता ने जो भी बोला है उसके लिए स्वतंत्र है। लेकिन हमें मालूम है कि थाने में बैठकर क्या काम करना है। भाजपा नेता ने जो भी कहा है उस मामले में वरिष्ठ अधिकारी के निर्देश पर संज्ञान लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *