अंद्राब में मारे गए तालिबान के 50 लड़ाके : कड़ी टक्कर में जिला कमांडर भी हुआ ढेर

ब्रह्मास्त्र काबुल। तालिबान भले ही समूचे अफगानिस्तान पर कब्जे का दावा कर रहा है, लेकिन अब भी उसे कई जगहों पर कड़ी टक्कर मिल रही है। अंद्राब घाटी में विद्रोही लड़ाकों से संघर्ष के दौरान तालिबान के बानू जिले के कमांडर की मौत हो गई है। यही नहीं इस संघर्ष में उसके तीन अन्य साथी भी मारे गए हैं। इसके अलावा फज्र इलाके में संघर्ष में भी तालिबान के 50 लड़ाकों के मारे जाने की खबर है। इसके अलावा 20 लोगों को विद्रोहियों ने बंधक बना लिया है। इसके अलावा विद्रोहियों के भी 6 लोग जख्म हुए हैं और एक की मौत हो गई है। इस बीच तालिबान के लड़ाकों ने पंजशीर घाटी को घेर लिया है।
हालांकि उसका कहना है कि हम लड़ने की बजाय राजनीतिक समाधान के पक्षधर हैं।
इसके अलावा तालिबान ने उन तीन जिलों पर एक बार फिर से कब्जा जमा लिया है, जिन्हें विद्रोहियों ने उसके कब्जे से छुड़ा लिया था। तालिबान के प्रवक्ता ने सोमवार को ही उन तीन जिलों को वापस कब्जाने की बात कही थी, जिन पर विद्रोहियों ने कब्जा जमा लिया था। 15 अगस्त को अफगानिस्तान में तालिबान का राज स्थापित होने के बाद पहली बार हुए सशस्त्र विद्रोह में बानो, देह सालेह और पुल-ए-हेसार जिले पर विद्रोहियों ने कब्जा जमा लिया था। लेकिन सोमवार को तालिबान ने इन जिलों पर तो वापस कब्जा जमाया ही, इसके अलावा बदख्शन, ताखर और अंद्राब में भी अपनी सत्ता कायम कर ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *