प्रदेश में अगले 2 दिन तक होगी बारिश: उज्जैन में रामघाट के मंदिर शिप्रा नदी में डूबे, भोपाल और इंदौर में रुक-रुककर गिर रहा पानी, देवास-टीकमगढ़ समेत 6 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

ब्रह्मास्त्र भोपाल। मध्यप्रदेश में बारिश का सिलसिला लगातार जारी है। भोपाल और इंदौर में दो दिनों से रुक-रुककर बारिश हो रही है। शनिवार सुबह से कई हिस्सों में पानी गिर रहा है। उज्जैन में 24 घंटे में डेढ़ इंच बारिश हुई है। यहां शिप्रा नदी उफान पर आ गई है। इसकी वजह से रामघाट के मंदिर नदी में डूब गए हैं। छोटे पुल पर तीन फीट ऊपर पानी बह रहा है।
मौसम विभाग ने प्रदेश के कई हिस्सों में अगले दो दिन तक हल्की और मध्यम बारिश होने की बात कही है। साथ ही अगले 24 घंटे में टीकमगढ़, निवाड़ी, छतरपुर, सीहोर, देवास और झाबुआ में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मौसम वैज्ञानिक पीके शाह ने बताया कि प्रदेश में नॉर्थ ईस्ट से गुजरात तक एक ट्रफ लाइन जा रही है।
बड़नगर जाने वाले दोनों रास्तों को बैरिकेड्स लगाकर किया बंद
नॉर्थ ईस्ट एमपी में ऊपरी हवाओं का चक्रवात बना हुआ है। इससे प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश हो रही है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के उज्जैन, रीवा, भोपाल, सागर, ग्वालियर और इंदौर में बारिश का दौर अगले दो दिनों तक जारी रहेगा। साथ ही उन्होंने टीकमगढ़, नीवाड़ी, छतरपुर, सीहोर, देवास, झाबुआ में अगले 24 घंटे में भारी बारिश होने का भी संभावना बताई है। दो दिनों से उज्जैन में हो रही बारिश के कारण शिप्रा का जल स्तर बढ़ गया है। नदी उफान पर है। रामघाट के कई मंदिर डूब गए हैं। यहां होमगार्ड के सैनिकों को तैनात कर दिया गया है, ताकि श्रद्धालु नदी नजदीक तक न जा सकें। शिप्रा नदी पर बने छोटे पुल पर पानी आने से उस पर से ट्रैफिक रोक दिया गया है। बड़नगर वाले रास्ते पर जाने वाले दोनों रास्तों को बैरिकेड्स लगाकर बंद कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *